पुलवामा हमले की जांच के लिए आज भी घटनास्थल पर पहुंची एनआईए

श्रीनगर। पुलवामा हमले की जांच के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आज भी घटनास्थल पर पहुंची। इस दौरान एनआईए टीम के साथ फाॅरेंसिक टीम और सीआरपीएफ के डीजी आरआर भटनागर भी मौजूद थे। उन्होंने बताया कि फिलहाल जांच के पूरी होने पर ज्यादा जानकारी मिल पाएगी।
उधर, कहा जा रहा है कि सीआरपीएफ के काफिले की बस में हमले के लिए फिदायीन हमलावर ने 150 से 200 किलो आरडीएक्स का इस्तेमाल किया था। आगे की जांच के लिए फॉरेंसिक टीम ने सैंपल इकट्ठे कर लिए हैं।
सीआरपीएफ डीजी ने बताया, ‘मैं यहां घटनास्थल पर आया हूं। जैसा कि आप देख रहे हैं कि फॉरेंसिक और एनआईए की टीम यहां काम कर रही हैं। फिलहाल जांच की जा रही है और एक बार जांच पूरी होने के बाद ही अधिक जानकारियां सामने आ सकती हैं।’ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सुरक्षा बलों ने 25 किमी तक के इलाके में घेराबंदी कर ली है।
इससे पहले शुक्रवार को भी एनआईए की टीम घटनास्थल पर गई थी। पुलवामा के लेथीपोरा इलाके में अपनी एक्सपर्ट टीम के साथ पहुंचे एनआईए के अधिकारियों ने यहां हुए हमले से जुड़े सबूत इकट्ठा किए हैं। इसके साथ ही एनआईए ने इस बात की भी पड़ताल शुरू की है कि हमले में किस प्रकार के विस्फोटक का इस्तेमाल हुआ था और किसकी शह पर पूरी साजिश की प्लानिंग की गई थी। पहले इस हमले में अमोनियम नाइट्रेट के इस्तेमाल का शक भी जताया गया था, हालांकि एनआईए या अन्य एजेंसियों ने इस बारे में कोई बयान नहीं दिया है।
शुक्रवार को भी हुई थी जांच
गुरुवार शाम को ही केंद्र सरकार ने एनआईए से पुलवामा हमले की जांच कराने का फैसला किया था, जिसके बाद शुक्रवार सुबह दिल्ली से एक विशेष विमान के जरिए टीम को श्रीनगर भेजा गया। यहां से टीम पुलवामा के लेथीपोरा स्थित हाइवे के उस स्थान पर पहुंची, जहां गुरुवार शाम सीआरपीएफ जवानों पर हमला हुआ था। यहां पहुंचने के बाद टीम ने मौके से उन सबूतों को इकट्ठा किया, जिसके फॉरेंसिक परीक्षण की जरूरत थी। इसके अलावा टीम ने अधिकारियों से हमले से जुड़ी तमाम जानकारियां भी ली।
जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर वन-वे
जम्मू-श्रीनगर हाइवे शनिवार एक तरफा यातायात के लिए खोल दिया गया है। केवल फंसे हुए वाहनों को ही जम्मू से श्रीनगर की ओर अनुमति दी गई है। कश्मीर घाटी में करीब 7 हजार वाहन फंसे हुए हैं और राजमार्ग पर से फंसे हुए वाहन हटने के बाद ही जम्मू की ओर जाने वाले वाहनों को अनुमति दी जाएगी। राजमार्ग को यातायात के लिए शुक्रवार दोपहर को आंशिक रूप से बहाल कर दिया गया था।
हमले पर सर्वदलीय बैठक खत्म
अधिकारी ने कहा, ‘जब राजमार्ग से सभी फंसे हुए वाहन निकल जाएंगे उसके बाद ही हम श्रीनगर से जम्मू के लिए यातायात को बहाल करने पर फैसला लेंगे।’ कश्मीर जाने वाले 2,000 से अधिक फंसे हुए वाहनों ने शनिवार सुबह तक जवाहर सुरंग पार कर ली। दूसरी ओर, संसद में पुलवामा हमले पर सर्वदलीय बैठक भी खत्म हो गई है। बैठक में आतंक को जड़ से समाप्त करने का संकल्प लिया गया। वहीं कांग्रेस ने कहा कि वह इस मामले में सरकार और सुरक्षाबलों के साथ मजबूती से खड़ी है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *