आतंकी संगठन अंसारुल्‍ला के 16 ठ‍िकानों पर NIA का एकसाथ छापा, बड़ी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री बरामद

चेन्‍नै। राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी NIA ने आज तमिलनाडु में आतंकी संगठन अंसारुल्‍ला के 16 ठ‍िकानों पर एक साथ छापा मारा। यह संगठन भारत को एक इस्‍लामिक स्‍टेट में तब्‍दील करके शरिया कानून लागू करना चाहता है।
भारत सरकार के खिलाफ जंग की साजिश रच रहे आतंकी संगठन अंसारउल्‍ला के इन ठिकानों से बड़ी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री मिली है। NIA ने पिछले दिनों अंसारुल्ला से जुड़े 14 संदिग्‍ध लोगों को अरेस्‍ट किया था। इन लोगों को सऊदी अरब ने डिपोर्ट किया था। NIA के मुताबिक अंतर्राष्‍ट्रीय आतंकवादी संगठन अलकायदा और आईएस से जुड़े अंसारुल्ला के इरादे बेहद खतरनाक हैं।
NIA के मुता‍बिक यह संगठन भारत को एक इस्‍लामिक स्‍टेट में तब्‍दील करके शरिया कानून लागू करना चाहता है। इसके लिए अंसारुल्ला भारत में बड़े पैमाने पर आतंकवादी हमले की साजिश रच रहा था।
विशेषज्ञों के मुताबिक किसी एक राज्‍य में कट्टरपंथी इस्‍लामिक विचारधारा को बढ़ावा देने के अब तक हुए सबसे बड़े खुलासों में अंसारुल्ला का भंडाफोड़ भी शामिल है। अंसारुल्‍ला से जुड़े लोग यूरोप की तरह से भारत में भी चाकू, वाहनों से लोगों को कुचलकर और जहर देकर हत्‍या करने की साजिश रच रहे थे।
अंसारुल्ला का अर्थ है ‘अल्‍लाह के समर्थक’। NIA के एक अधिकारी ने कहा, ‘अंसारउल्‍ला का इरादा भारत के लोकतांत्रिक संस्‍थानों पर आतंकी हमला करके देश में शरिया कानून लागू करना है।’ उन्‍होंने बताया कि अंसारुल्ला यमन के आतंकवादी संगठन ‘अंसारुल्ला’ से जुड़ा है। यमन के संगठन अंसारुल्ला को हूती विद्रोही के नाम से भी जाना जाता है। हूती विद्रोहियों पर सैंकड़ों लोगों की हत्‍या का आरोप है। हूती विद्रोही वैचारिक रूप से अलकायदा और आईएस से जुड़े हुए हैं।
भारत में कई नामों से सक्रिय है अंसारुल्‍ला
NIA की ओर से दर्ज किए गए केस के मुताबिक संदिग्ध आतंकी चेन्नै और नागपट्टिनम जिले के रहने वाले हैं। अंसारुल्ला संगठन भारत में वहादत-ए-इस्‍लाम, जिहादिस्‍ट इस्‍लामिक यूनिट और जमात वहादत-ए-इस्‍लाम अल जिहादिया के नाम से भी सक्रिय है। सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि अंसारुल्‍ला के लोग पड़ोसी श्रीलंका के आतंकवादियों से जुड़े हो सकते हैं जिन पर हाल ही में कई बम भीषण बम धमाके करके सैकड़ों लोगों की जान लेने का आरोप है। हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है।
भारत में प्रतिबंधित संगठन सिमी से भी इसके तार जुड़े होने का शक है। सुरक्षा एजेंसियां इस विचारधारा के समर्थकों पर अपनी नजरें बनाए हुए हैं। NIA ने बताया कि अंसारुल्‍ला से जुड़े लोग जिहादी वीडियो दिखाकर लोगों को अपने संगठन में जोड़ रहे थे। शनिवार को तमिलनाडु में जिन 16 ठिकानों पर छापा मारा गया, उनमे मोहम्‍मद शेख का भी घर शामिल है। NIA का कहना है कि आरोपी सैयद मोहम्मद बुखारी, हसन अली और मोहम्मद युसुफुद्दीन और उसके सहयोगियों ने दुबई में बड़े पैमाने पर फंड जुटाया है। ये लोग भारत में आतंकी हमलों को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थे।
छापेमारी और आरोपियों से पूछताछ तेज
NIA फिलहाल छापेमारी के बाद आरोपियों से पूछताछ कर रही है। NIA टीम ने अपनी छापेमारी की कार्रवाई करते हुए पिछले दिनों 9 मोबाइल, 15 सिम कार्ड्स, 7 मेमोरी कार्ड्स, 3 लैपटॉप, 5 हार्ड डिस्क, 6 पेन ड्राइव, दो टैबलेट और तीन सीडी और डीवीडी बरामद की थी। इसके अलावा तमाम मैग्जीन्स, बैनर्स, नोटिस, पोस्टर्स और किताबें भी बरामद की गईं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »