Lethpora हमले के पांचवें आरोपी इरशाद अहमद को एनआईए ने किया गिरफ्तार

नई दिल्‍ली। Lethpora में सीआरपीएफ के ग्रुप सेंटर पर हुए आत्मघाती हमले के पांचवें आरोपी इरशाद अहमद रेशी को एनआईए ने गिरफ्तार कर लिया है। एनआईए ने रविवार को इरशाद अहमद रेशी को गिरफ्तार कर लिया। एनआईए द्वारा गिरफ्तार इरशाद Lethpora सीआरपीएफ ग्रुप हमले का पांचवा आरोपी है।

इसके पहले एनआईए ने निसार अहमद तांत्रे को 31 मार्च को गिरफ्तार किया था। तांत्रे को सुरक्षा एजेंसियों ने दुबई से से लौटते ही दिल्ली एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किया था। रविवार को गिरफ्तार इरशाद अहमद रेशी को कल विशेष एनआईए अदालत में पेश किया जाएगा।

गौरतलब है कि निसार अहमद तांत्रे काे एनआईए ने 30 दिसंबर 2017 को Lethpora पुलवामा में सीआरपीएफ के ग्रुुप सेंटर पर हुए जैश ए मोहम्मद के आत्मघाती हमले के सिलसिले में पकड़ा गया है। वह इसी साल पहली फरवरी को दुबई भागा था। वहीं, अब एनआईए ने निसार अहमद, सैयद हिलाल अंद्राबी के बाद इरशाद अहमद रेशी की पांचवी गिरफ्तारी की है।

मालूम हो कि 30 दिसंबर 2017 को जम्मू कश्मीर के लेथपोरा स्थित सीआरपीएफ कैंप पर आंतकी हमला हुआ था। इस हमले में पांच जवान शहीद हो गए थे। हमले में शामिल तीनों आतंकियों को मार गिराया गया था।

रेशी को सोमवार को यहां एनआईए की एक विशेष अदालत में पेश किया जाएगा। एजेंसी आगे की जांच के लिए उसके पुलिस हिरासत की मांग कर सकती है।

एनआईए ने कहा कि सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पर हमला नूर त्राली की मौत का बदला लेने के मकसद से किया गया था। नूर दिसंबर 2017 में सुरक्षा बलों के साथ एक मुठभेड़ में मारा गया था। एक प्रमुख साजिशकर्ता रेशी ने सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर की रेकी करने, आतंकियों को शरण देने और उनके परिवहन जैसे लॉजिस्टिक मदद मुहैया कराने में मदद की थी।

एनआईए ने कहा, “इस मामले में चार आरोपी -फयाज अहमद मगरे, मंजूर अहमद भट, निसार अहमद तांत्रे और सैयद हिलाल अंद्राबी- को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।”

इस सेंटर पर 30-31 दिसंबर, 2017 की रात जैश के तीन आतंकियों ने हमला किया था। जांच के दौरान उनकी पहचान फरदीन अहमद खांडेय, मंजूर बाबा, और एक पाकिस्तानी आतंकी अब्दुल शकूर के रूप में हुई थी।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »