Togadia की नई राजनीतिक पार्टी का नाम होगा अंतर्राष्ट्रीय जनता पार्टी, देखें VIDEO

अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के संस्थापक प्रवीण भाई Togadia ने राजनीति में उतरने का ऐलान कर मंगलवार को नई राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा कर दी, पार्टी का नाम अंतर्राष्ट्रीय जनता पार्टी रखा गया है

अयोध्या। राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को लेकर अयोध्या पहुंचे अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद (एएचपी) के प्रमुख Pravin Togadia ने राजनीति में उतरने का ऐलान कर दिया है। Togadia ने मंगलवार को नई राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा कर दी। पार्टी का नाम अंतर्राष्ट्रीय जनता पार्टी रखा गया है। नई पार्टी के ऐलान के साथ ही तोगड़िया ने सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ने और सरकार बनने के तीन महीने के भीतर राम मंदिर के निर्माण का भी दावा किया।

अयोध्या में राममंदिर निर्माण आंदोलन के चलते प्रवीण Togadia ने सरकार को दिखाया शक्ति प्रदर्शन 

जिले में निषेधाज्ञा लागू होने के बावजूद भी विभन्न प्रांतो से हजारो रामभक्त तोगड़िया के समर्थन में अयोध्या पहुंचे 

अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के संस्थापक प्रवीण भाई तोगड़िया ने अयोध्या में संकल्प सभा करते हुए नई पार्टी का अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के संस्थापक प्रवीण भाई तोगड़िया ने अयोध्या में संकल्प सभा करते हुए नई पार्टी का एलान कर दिया है। उन्होंने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि जिन लोगों ने राम के नाम पर चुनाव लड़ा वो सत्ता मिलते ही राम को भूल गए। उन्होंने अपने समर्थकों संग अबकी बार हिंदुओं की सरकार का नारा दिया। नई पार्टी के एलान के साथ ही तोगड़िया ने लोकसभा चुनाव लड़ने की भी घोषणा कर दी। नई पार्टी के नाम की घोषणा दिल्ली में होगी।

तोगड़िया ने सत्ता में आने पर हर हिंदू को भोजन, शिक्षा व रोजगार देने का वादा किया। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों ने समृद्ध भारत, समृद्ध हिंदू का नारा दिया था लेकिन सत्ता में बैठे लोग हिंदू हितों की बात भूल गए हैं। मस्जिदों में जाते हैं। हम राम मंदिर नहीं तो वोट नही का नारा लेकर जागरुकता फैलाएंगे और केंद्र में हिंदुओं की सरकार बनाने के लिए काम करेंगे। तोगड़िया ने मुस्लिमों की जनसंख्या पर भी नियंत्रण लगाने की बात कही।

इसके पहले अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के संस्थापक प्रवीण Togadia के समर्थकों व पुलिस के बीच अयोध्या में रामकोट की परिक्रमा के दौरान भिड़ंत हो गई।  इस दौरान समर्थकों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा।

सोमवार को देर शाम अयोध्या पहुंचे प्रवीण तोगड़िया के आने के बाद से ही हड़कंप मच गया। तोगड़िया के अयोध्या पहुंचते ही विभिन्न प्रांतों से आये संगठन के हजारों कार्यकर्ता व राम भक्त भी तोगड़िया के साथ हो गये, इनकी संख्या हजारों में होगी।
इसका अनुमान स्थानीय प्रशासन को भी नहीं था हालांकि जिले में पहले से ही निषेधाज्ञा लगी हुयी थी लेकिन फिर भी हजारों की संख्या में लोग अयोध्या पहुंच गये।
अयोध्या पहुंचे तोगड़िया ने प्रशासन पर आरोप लगाया कि पहले तो हमारे आने पर ही रोक लगाई गयी थी किन्तु जब हम लोग आ ही गये तो हमारे राशन की ट्रकों को रोक दिया गया। अयोध्या के धर्मशालाओ में भी हमारे राम भक्तों को भी जगह रहने के लिए नहीं मिल रही है जबकि उनमें काफी महिलायें भी हैं। हमारे राम भक्त भोजन सामग्री न मिलने के कारण भूखे हैं इसके लिए जिम्मेदार स्थानीय प्रशासन है।

उन्होंने कहा की जब हमारे कार्यकर्ता भूखे हैं तो हम भी भूखे रहेंगे और सरयू घाट स्थित परमहंस की समाधि के सामने ही खुले आसमान के नीचे अपने रामभक्त व कार्यकर्ताओं के साथ रात बिताएंगे। इसपर प्रशासन के हाथ पैर और फूल गये और कुछ देर के उपरांत राशन के ट्रक को छोड़ दिया गया।

सोमवार को तोगड़िया के घोषित कार्यक्रम को देखते हुए प्रशासन ने अयोध्या में कड़ी सुरक्षा के प्रबंध कर रखे थे लेकिन तोगड़िया समर्थको ने सुबह से ही अपनी गहमा गहमी बढ़ा दी और राम कोट की परिक्रमा करने के लिए आगे बढ़ने लगे जिसके चलते व्यापक सुरक्षा बल लगाया गया और राम कोट की परिक्रमा करने के लिए रोकने लगे जिसके चलते पुलिस को बलपूर्वक रामभक्तों को रोकना पड़ा।

-रिपोर्ट: संदीप श्रीवास्‍तव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »