ब्यूटी से समझौता किए बिना Motherhood को एंजॉय कर सकती हैं न्यू मॉम्स

बच्चे के जन्म के बाद मां का ज्यादातर वक्त बच्चे की देखभाल में ही निकल जाता है और मां खुद पर बिलकुल ध्यान नहीं दे पाती, जिस वजह से उसकी शारीरिक सुंदरता पर भी असर पड़ता है।
ऐसे में हम आपको बता रहे हैं बेहद आसान टिप्स जिन्हें अपनाकर न्यू मॉम्स अपनी ब्यूटी से समझौता किए बिना Motherhood के सफर को इंजॉय कर सकती हैं।
थकी आंखें, डार्क सर्कल
वजह-अक्सर नींद पूरी न होने की वजह से न्यू मॉम्स की आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स आ जाते हैं और आंखें भी हर वक्त थकी-थकी रहती हैं।
घरेलू नुस्खा- थकी आंखों को फिर से तरोताजा बनाने का सबसे आसान उपाय है आलू के टुकड़े या टी बैग का इस्तेमाल करना। इसके अलावा आप चाहें तो चंदन पाउडर में थोड़ा सा दूध मिलाकर पेस्ट बनाएं और उसे आंखों के नीचे लगाएं। आंखों पर खीरे के टुकड़े रखें या फिर किसी भी फल के ताजे जूस में रूई भिगोकर उसे आंखों पर रखें। इससे भी आंखों की थकान और काले घेरे दूर हो जाएंगे।
स्ट्रेच मार्क्स को दूर भगाएं
वजह- शरीर में होने वाले हॉर्मोनल बदलाव और पेट के ऊपर की स्किन खिंचने की वजह से पेट के आसपास की स्किन पर स्ट्रेच मार्क्स पड़ जाते हैं और बच्चे के जन्म के बाद ये स्ट्रेच मार्क्स ज्यादा दिखने लगते हैं।
घरेलू नुस्खा- प्रेग्नेंसी के दौरान मॉइश्चराइजिंग रूटीन फॉलो करें। प्रेग्नेंसी के दौरान और उसके बाद भी कैलंडुला, लैवेंडर, रोजमेरी, कैमोमाइल और विटमिन ए और विटमिन ई युक्त नॉन-स्टिकी तेल से हल्के हाथ से पेट और आसपास की स्किन पर मसाज करें।
फटी त्वचा और फटी एड़ियां
वजह- प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में हॉर्मोनल बदलाव की वजह से स्किन में ऑइल इम्बैलेंस हो जाता है जिससे स्किन के साथ ही होंठ, निपल्स और पैर भी रूखे हो जाते हैं और फटने लगते हैं।
समाधान- नैचरल ऑइल जैसे नारियल के तेल को निपल्स और आसपास की स्किन पर लगाएं। स्किन का रूखापन दूर हो जाएगा। इसके अलावा स्किन की ड्राइनेस दूर करने के लिए नैचरल इन्ग्रीडिएंट्स युक्त मॉइश्चराइजर को स्किन के दूसरे हिस्सों पर और लिप बाम को होंठों पर लगाएं।
गिरते बालों की समस्या
वजह- एक बार फिर प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में होने वाले हॉर्मोनल चेंज की वजह से बाल रूखे हो जाते हैं और बच्चे के जन्म के बाद बहुत सी महिलाओं को बाल झड़ने की समस्या का सामना करना पड़ता है।
घरेलू नुस्खा- बच्चे के जन्म के बाद बाल न झड़े इसके लिए बालों को पोषण देना बेहद जरूरी है। मजबूत बालों के लिए अपनी डायट में प्रोटीन से भरपूर खाना जैसे- स्प्राउट्स, मछली, दाल और हरी सब्जी को शामिल करें। इसके अलावा ऐसा हेयर ऑइल चुनें जो लाइट हो और सप्ताह में 2 बार बालों में तेल लगाकर अच्छी तरह से मालिश करें। डिलिवरी के बाद भी सप्लिमेंट्स लेना जारी रखें।
स्किन की रंगत निखारें
वजह- एक बार फिर हॉर्मोनल बदलाव की वजह से ही स्किन पिग्मेंटेशन होता है और त्वचा का रंग पहले के मुकाबले थोड़ा डार्क हो जाता है।
समाधान- स्किन के जिन हिस्सों का रंग गहरा हो गया हो वहां बहुत ज्यादा स्क्रबिंग करने से बचें। अच्छे सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। आप चाहें तो कोजिक ऐसिड और विटमिन बी6 जैसे स्किन लाइटनिंग सलूशन का इस्तेमाल भी कर सकती हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »