एमजे अकबर के साथ कभी सहमति से संबंध नहीं रहा: पल्लवी गोगोई

नई दिल्‍ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर रेप का आरोप लगाने वाली पत्रकार पल्लवी गोगोई ने कहा है कि दोनों के बीच कभी सहमति से संबंध नहीं रहा। महिला पत्रकार ने कहा है कि जबरदस्ती और ताकत का दुरुपयोग कर बनाए गए संबंध कभी सहमति पर आधारित हो ही नहीं सकते।
बता दें कि पल्लवी गोगोई नेशनल पब्लिक रेडियो (NPR) की चीफ बिजनस एडिटर हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि एशियन एज में काम करने के दौरान अकबर ने उनसे रेप किया।
#MeToo मूवमेंट के बीच एमजे अकबर पर करीब दर्जन भर महिला पत्रकारों ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। इन आरोपों के बाद उन्हें केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था। बीजेपी सांसद अकबर फिलहाल कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं। पल्लवी गोगोई के आरोप सामने आने के बाद शुक्रवार को अकबर और उनकी पत्नी मलिका ने अपना पक्ष भी रखा था।
पल्लवी ने एक ट्वीट कर अकबर की सफाई पर अपना पक्ष रखा है। पल्लवी ने लिखा है कि वह उस समय 20 वर्ष की एक उत्साहित पत्रकार थीं जो अकबर के नेतृत्व वाले अखबार में काम कर रही थी। पल्लवी ने लिखा है कि उनके और तमाम महिलाओं द्वारा लगाए गए आरोपों की जिम्मेदारी लेने की बजाय अकबर एक सीरियल सेक्शुअल अब्यूजर की तरह संबंध को सहमति पर आधारित बता रहे हैं। पल्लवी ने लिखा है कि वह अपने आरोपों पर कायम हैं और आगे भी आवाज बुलंद करती रहेंगी।
शुक्रवार को एमजे अकबर ने पल्लवी के आरोपों को झूठा बताते हुए कहा था कि उन दोनों के बीच सहमति से संबंध बना था जो कुछ महीनों बाद टूट गया। अकबर की पत्नी मलिका ने कहा था कि इन दोनों के रिश्ते से घर पर असर पड़ रहा था और उन्होंने अकबर से बात की। बाद में अकबर ने पल्लवी पर अपने परिवार को तरजीह दी और वह रिश्ता खत्म हो गया।
बता दें कि वरिष्ठ पत्रकार पल्लवी गोगोई ने वॉशिंगटन पोस्ट में एक लेख लिख कर एमजे अकबर पर रेप के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि 23 साल पहले एशियन एज में काम करने के दौरान अकबर ने उनके साथ रेप किया पल्लवी ने इस लेख में लिखा है कि जयपुर में एक असाइनमेंट देखने के बहाने अकबर ने उन्हें कमरे में बुलाकर रेप किया था। पल्लवी के आरोपों के मुताबिक एमजे अकबर ने अलग-अलग मौकों पर उनका शोषण किया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »