नवाज शरीफ अब भी अपने बयान पर कायम

इस्लामाबाद। 2008 के मुंबई हमलों में पाकिस्तानी आतंकियों की भूमिका को स्वीकारने वाले बयान पर घिरे पूर्व पाक पीएम नवाज शरीफ अब भी अपने बयान पर कायम हैं। इस्लामाबाद में जवाबदेही अदालत के बाहर मीडिया से बातचीत के दौरान नवाज बोले कि जो भी इंटरव्यू में कहा उसमें गलत क्या था?
दूसरी तरफ राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ने बैठक के बाद इस बयान को गलत और भ्रामक करार दिया है।
‘जियो न्यूज़’ के मुताबिक नवाज ने सोमवार को कहा कि यह पहली बार नहीं जब किसी ने ऐसा स्वीकार किया हो। बल्कि उन्होंने एक सवाल किया है और उन्हें इसका जवाब चाहिए।
वहीं, प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी की अध्यक्षता में हुई NSC बैठक के बाद नवाज के बयान को खारिज किया गया और इसे गलत तथा भ्रामक करार दिया गया।
पाकिस्तानी पीएम ऑफिस की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि भारत ने पाकिस्तानी जांचकर्ताओं को मुंबई हमले के दोषी अजमल कसाब से नहीं मिलने दिया गया। बल्कि कसाब को हड़बड़ी में दी गई फांसी से मामले की जांच बाधित हुई।
बता दें कि ‘डॉन’ को दिए इंटरव्यू में शरीफ ने पहली बार सार्वजनिक रूप से एक साक्षात्कार में माना था कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन सक्रिय हैं। उन्होंने सरकार से इतर तत्वों के सीमा पार करने और लोगों की हत्या करने देने की पाकिस्तान की नीति पर सवाल उठाए थे। इसके साथ ही नवाज ने कहा था कि आतंकी संगठन सक्रिय हैं, क्या उन्हें सीमा पार करने और मुंबई में 150 लोगों की हत्या करने की इजाजत दे देनी चाहिए? नवाज के इस बयान के बाद से ही पाकिस्तान में राजनीतिक भूचाल आ गया है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »