विकास कार्यों में अड़ंगा लगाने की आदी हो गई है नौसेना: गडकरी

मुंबई। केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को भारतीय नौसेना की जमकर क्लास लगाई। मुंबई के मालाबार हिल्स में एक होटल की तरफ से पुल (जेटी) के निर्माण कार्य को रोकने के लिए नेवी के प्रयासों से गडकरी काफी नाराज हो गए। उन्होंने कहा कि भारतीय नेवी की आदत विकास कार्यों में अड़ंगा लगाते रहने की हो गई है।
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में एक प्राइवेट कंपनी के मालाबार हिल्स में निर्माण कार्य पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने कहा कि कंपनी को अभी तक औपचारिक तौर पर वेस्टर्न नेवल कमांड से अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं मिला है। इसी मुद्दे पर नाराज केंद्रीय मंत्री ने नौसेना को खुली चुनौती तक दे डाली।
मुंबई के एक कार्यक्रम में नौसेना पर बरसते हुए उन्होंने कहा, ‘नौसेना को मालाबार हिल्स में क्या करना है? उनका काम बॉर्डर पर सुरक्षा करना है। नौसेना के अधिकारी दक्षिणी मुंबई में अपने लिए क्वॉर्टर चाहते हैं। मैं उन्हें बहुत ज्यादा तवज्जो नहीं देने वाला। पॉश दक्षिणी मुंबई में नौसेना को क्वॉर्टर बनाने के लिए एक इंच जमीन नहीं मिलने दूंगा।’ केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि फेरी और सेतु के निर्माण से सुरक्षा को कोई खतरा नहीं था।
बता दें कि पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एक प्राइवेट फर्म रश्मि डिवेलपमेंट प्राइवेट लिमिटेड निर्माण कार्य कराना चाहती थी। फर्म का उद्देश्य अरब सागर से सटे अपने फाइव स्टार होटल समंदर तक के लिए यात्रियों को फेरी से सैर कराने के लिए एक छोटे सेतु जैसी चीज बनाने का था। नौसेना के वेस्टर्न कमांड ने सुरक्षा कारणों से इसकी अनुमति नहीं दी।
-एजेंसी