ग़ायब पनडुब्बी न मिलने के कारण अर्जेंटीना के नौसेना प्रमुख बर्ख़ास्त

पिछले महीने दक्षिणी अटलांटिक महासागर में ग़ायब हुई पनडुब्बी के न मिलने के बाद अर्जेंटीना के नौसेना प्रमुख को बर्ख़ास्त कर दिया गया है.
ऐसा सामने आया है कि रक्षा मंत्री ने शुक्रवार रात को एडम मासेलो स्रुर को उनके पद से हटा दिया.
एआरए सैन ख़्वान नाम की पनडुब्बी इलेक्ट्रिकल समस्या के चलते पेटागोनिया के तट से दूर 44 क्रू सदस्यों के साथ ग़ायब हो गई थी.
इसके बाद इसे ढूंढने के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खोज अभियान भी चलाया गया था, जो असफल रहा था.
स्वतंत्र आयोग का गठन
किसी के जीवित न होने की संभावना न रहने के कारण दो सप्ताह पहले बचाव अभियान ख़त्म कर दिया गया था. हालांकि ग़ायब हुए लोगों के परिजनों ने सरकार से पनडुब्बी की खोज जारी रखने का आग्रह किया था.
पनडुब्बी के लापता होने के समय जिस जगह पर तेज़ शोर सुना गया था, उस जगह कुछ जहाज़ अभी भी उसे तलाश कर रहे हैं. इस शोर के कारण अनुमान लगाया जा रहा है कि पनडुब्बी फट गई होगी.
पनडुब्बी की तलाश के लिए चलाए गए अभियान के संचालन के ढंग की आलोचना के बाद अर्जेंटीना के राष्ट्रपति मौरिसियो माक्री ने जांच के लिए एक विशेष स्वतंत्र आयोग का गठन किया है.
आयोग में तीन पनडुब्बी चालक होंगे, जिनमें से एक लापता हुए क्रू मेंबर के पिता हैं.
अभियान के लिए असीमित बजट
रक्षा मंत्री ऑस्कर अगुआद ने वादा किया है कि जांच ‘पारदर्शी’ होगी और इसके लिए असीमित बजट होगा.
समाचार एजेंसी एफ़े के अनुसार लापता हुए क्रू मेंबर फर्नांदो के पिता ख़ोरख़े वियारियाल कहते हैं, “हम पूछते हैं कि क्या वे हमेशा सच बताते हैं और हमेशा सूचित करते हैं कि क्या हो रहा है?”
वह आगे कहते हैं कि, “हमें सिर्फ़ मीडिया के ज़रिये कुछ बातें पता चलती हैं.”
अर्जेंटीना के 60 वर्षीय नौसेना प्रमुख एडम स्रुर को राष्ट्रपति माक्री ने जनवरी 2016 में नियुक्त किया था.
-BBC