BPL कार्ड धारक के नाम 25 करोड़ रुपए की संपत्ति

भोपाल। मध्य प्रदेश के एक गरीब BPL (गरीबी रेखा से नीचे) कार्ड धारक आदिवासी को आयकर विभाग ने करोड़ों रुपये की संपत्ति खरीदने के मामले में नोटिस भेजा है। शक जताया जा रहा है कि एक बिल्डर ने उन्हें ऐसा करने के लिए पैसे दिए थे, क्योंकि नियमों के मुताबिक आदिवासियों की जमीन गैर-आदिवासी नहीं खरीद सकते। आयकर विभाग ने बेनामी लेन-देन (रोकथाम) संशोधन ऐक्ट के तहत जांच शुरू कर दी है।
BPL कार्ड धारक के नाम 25 करोड़ की जमीन
आदिवासी कल्याण सिंह उर्फ कल्ला सहरिया अशोकनगर के रहने वाले हैं। वह सहरिया जनजाति से आते हैं। वह BPL कार्ड धारक हैं, लेकिन उनके नाम पर कांकरिया, महाबड़िया और दौलतपुर गांवों में जमीन के 50 टुकड़े हैं जिनकी कीमत करीब 25 करोड़ रुपये है। ये संपत्तियां 2008 से 2011 के बीच 6.5 करोड़ रुपये में खरीदी गई थीं और कल्ला के अकाउंट से चेक और कैश के जरिए भुगतान किया गया।
बिल्डर ने दिए पैसे
आयकर विभाग ने यह जानकारी दी है और सूत्रों के मुताबिक कल्याण सिंह को नोटिस दिया गया है और इस मामले में जांच के आदेश भी दे दिए गए हैं। प्राथमिक जांच में पता चला है कि कल्याण और उनके बेटे को ये जमीनें खरीदने के लिए पैसे एक बिल्डर ने दिए थे। यह बिल्डर भोपाल में रियल एस्टेट समूह का हेड है।
बता दें कि जिस 22 एकड़ जमीन की बात हो रही है वह आदिवासियों की थी और नियमों के मुताबिक कोई गैर-आदिवासी उन जमीनों को खरीद नहीं सकता था। आशंका जताई जा रही है कि इसी नियम के चलते बिल्डर ने आदिवासी कल्ला की मदद से जमीन खरीदी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »