बाबर की गलतियों पर मुस्लिम समाज प्रायश्चित करे: कटियार

लखनऊ। 70 साल पुराने अयोध्या विवाद की सुनवाई आखिरी दौर में है। सुप्रीम कोर्ट में आज शाम तक सुनवाई पूरी हो जाएगी। राम मंदिर आंदोलन से राष्ट्रीय नेता के तौर पर उभरने वाले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता और बजरंग दल के संस्थापक विनय कटियार इन दिनों अयोध्या के परिदृश्य से बाहर हैं। विनय कटियार का कहना है कि वकील अपना काम कर रहे हैं।
विनय कटियार ने कहा कि अब वक्त है कि बाबर ने जो गलतियां की हैं, उनका मुस्लिम समाज प्रायश्चित करे। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने बहुत ऐतिहासिक काम किया है। पूरी पीठ को इस चीज के लिए बधाई।
अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई से आप दूर हैं? इसके जवाब में विनय कटियार ने कहा, ‘नहीं, हम किसी वजह से दूर नहीं हैं। हम तो बस आराम से बैठे हैं। वकीलों का काम है और वे अपना काम कर रहे हैं। इसके लिए कोई झंझट नहीं है। एक कॉमन बात यह है कि सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने बहुत ऐतिहासिक काम किया है। पूरी पीठ को इस चीज के लिए बहुत बधाई। वह रोज सुनवाई कर रहे हैं। ईमानदारी से अपना काम किया जा रहा है। जल्दी से जल्दी पीठ निर्णय करना चाहती है। यदि यह निर्णय हो गया तो अपने आपमें ऐतिहासिक काम हो जाएगा। यह मामला जो इतने वर्षों से लटका हुआ है, उसके कई पक्षकार मर चुके हैं, फिर उनके परिवार के लोग पक्षकार बने हैं। अब बस इंतजार है कि निर्णय आ जाए, जिसके आधार पर विचार किया जाएगा।’
‘मुस्लिम पक्ष हताश और निराश’
विनय कटियार ने कहा, ‘मुस्लिम पक्ष निराश है, हताश है। अब समय भी है कि बाबर ने जो गलती की है, उसका मुस्लिम समाज प्रायश्चित करे। वे इस बात को मान लें कि बाबर एक आक्रमणकारी था। हमारे बहुत से मंदिर तोड़े गए हैं। कई मंदिर तो औरंगजेब ने तोड़े हैं। काशी के अंदर भी तोड़ा है, मथुरा के अंदर भी तोड़ा है, जिनके आज भी चिह्न विद्यमान हैं। हमारे जो मंदिर ऐतिहासिक थे, शक्ति का केंद्र थे, उन्हें तोड़ने का काम किया गया। आज हिंदू समाज ने काशी के अंदर भी अलग मंदिर बना दिया है, मथुरा के अंदर भी निर्माण करा दिया है। इन तीन स्थानों को छोड़ने की जरूरत नहीं है। बाकी, जो होगा तो फिर लड़ाई लड़ी जाएगी।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *