मशहूर भजन गायक की बेटी और पत्‍नी सहित हत्‍या, बेटे का अपहरण

शामली। उत्तर प्रदेश के शामली में ट्रिपल मर्डर की वारदात से सनसनी फैल गई। पंजाबी कॉलोनी में रहने वाले अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त भजन गायक अजय पाठक, उनकी बेटी वसुंधरा पाठक (12 वर्ष) और पत्नी स्नेहा पाठक (36 वर्ष) की उनके घर पर धारदार हथियारों से गला काटकर हत्या कर दी गई। बदमाश घर में लूटपाट करने के बाद भजन गायक के 10 वर्षीय पुत्र का अपहरण करके अपने साथ ले गए। अजय पाठक की गाड़ी भी बदमाश लेकर भाग गए।
डीआईजी, एसपी, डीएम सहित पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और घंटों छानबीन करने के बाद मौके पर डॉग स्क्वॉड और फिंगरप्रिंट एक्पर्ट्स को मौके पर बुलाकर बारीकी से छानबीन की गई। यह वारदात थाना आदर्श मंडी क्षेत्र की पंजाबी कॉलोनी में सोमवार को हुई। यहां पर भजन कीर्तन गाने वाले अजय अपने परिवार के साथ रहते थे।
बताया जाता है कि अजय पाठक को करनाल में अपनी पत्नी स्नेहा पाठक सहित मंगलवार सुबह सवेरे 5 बजे ससुराल जाना था। इसी को लेकर सोमवार को अजय पाठक तैयारियों में जुटे हुए थे। मकान के अंदर पीछे बने कमरे में अजय पाठक के चाचा दर्शनलाल पाठक भी सो रहे थे।
घर से कार चोरी, 10 साल के बेटे का अपहरण
शाम 4 बजे अजय पाठक के घर का दरवाजा तो खुला था लेकिन घर से गाड़ी गायब थी। मोहल्ले के लोगों और अन्य परिजन ने देखा कि घर खुला है। तब मकान के अंदर पहुंचे लोगों ने देखा कि मकान के अंदर कटी-फटी अवस्था में अजय पाठक, स्नेहा पाठक के अलावा उनकी बेटी वसुंधरा पाठक की लाश छिन्न-भिन्न अवस्था में पड़ी है। घर का सामान भी बिखरा हुआ था। घर की अलमारियां खाली थीं और घर से अजय पाठक का 10 वर्षीय बेटा और गाड़ी इको स्पोर्ट भी गायब थी।
सूचना पुलिस को दी गई तो पुलिस के आला अधिकारियों ने पहुंचकर मृतकों के शव कब्जे में लेकर जांच के लिए भेज दिए। शामली एसपी विनीत जायसवाल ने घटना स्थल पर पहुंचकर जायजा लेते हुए घटना के खुलासे के लिए तीन टीमों का गठन किया और पुलिस को जल्द ही घटना का खुलासे करने के निर्देश दिए। देर शाम घटना स्थल पर सहारनपुर पुलिस उपमहानिरीक्षक उपेंद्र अग्रवाल और जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। घटना के खुलासे के साथ-साथ किडनैप किए गए बच्चे की तलाशे के लिए भी पुलिस को निर्देश दिए गए हैं।
सीसीटीवी कैमरे भी तोड़ गए बदमाश
सूत्रों के मुताबिक घर में मौजूद सभी सीसीटीवी कैमरों को बदमाश जाते-जाते तोड़-फोड़ गए हैं। एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हत्या के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। घटना के बाद जिलाधिकारी अखिलेश कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक विनीत जसवाल मय पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे। बंद मकान के अंदर तीनों की डेड बॉडी को कब्जे में लेते हुए घटना की फरेंसिक जांच कराई जा रही है।
इस वारदात में अभी तक किसी प्रकार के खुलासे का कोई भी तथ्य सामने नहीं आया है। अधिकारियों ने मकान के अंदर मीडिया को भी जाने से रोक दिया। मौके पर पहुंचे डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि आरोपियों को जल्दी ही पकड़ लिया जाएगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *