मुकेश अंबानी की RIL ने तिमाही वित्तीय परिणाम जारी किए

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट RIL ने चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए वित्तीय परिणाम जारी कर दिए हैं। कंपनी ने अपने सभी वर्टिकल यानी बिजनेस में अच्छा प्रदर्शन किया है। इसकी वजह से रिलायंस इंडस्ट्रीज का कंसोलिडेटेड शुद्ध लाभ दूसरी तिमाही में 46 फीसदी बढ़कर 15,479 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी का ग्रॉस रेवेन्यू 49.2 बढ़कर 191,532 करोड़ रुपये हो गया है।
रिलायंस इंडस्ट्रीज की स्टैंडअलोन ग्रोथ: अगर सिर्फ रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड का (स्टैंडअलोन) ग्रॉस रेवेन्यू देखा जाए तो इसमें 68.8 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और यह बढ़कर 1,08,750 करोड़ रुपये हो गया। वहीं कंपनी का नेट प्रॉफिट दूसरी तिमाही में 44.1 फीसदी बढ़कर 9,228 करोड़ रुपये रहा।
जियो प्लेटफॉर्म्स: जियो प्लेटफॉर्म्स का ग्रॉस रेवेन्यू 15.2 फीसदी बढ़कर 23,222 करोड़ रुपये रहा और कंपनी का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट 3,728 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले साल की तुलना में 23.5 फीसदी अधिक है।
रिलायंस रिटेल: रिलायंस रिटेल का ग्रॉस रेवेन्यू दूसरी तिमाही में 45,426 करोड़ रुपये रहा। यह पिछले साल की तुलना में 10.5 फीसदी अधिक है। वहीं कंपनी का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट 1,695 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले साल की तुलना में 74.2 फीसदी अधिक है।
डिजिटल व न्यू कॉमर्स व्यवसाय: Q2 FY2021-22 रिलायंस का डिजिटल और न्यू कॉमर्स व्यवसाय नई ऊंचाइयां छू रहा है, स्टोर के वापिस खुलने पर सालाना आधार पर 2.4 गुना की बढ़ोतरी दर्ज की गई।
फैशन और लाइफस्टाइल बिजनेस: इस वर्टिकल ने सालाना आधार पर दोगुना बढ़ोतरी दर्ज की है। कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स और ग्रॉसरी बिजनेस ने दहाई अंकों की मजबूत बढ़ोतरी दर्ज की।
O2C बिजनेस: इस वर्टिकल ने 120,475 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया है, जो पिछले साल के मुकाबले 58.1% ज्यादा है।
ऑयल एंड गैस सेगमेंट: सालाना 363% की जबर्दस्त बढ़ोतरी के साथ 1,644 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया, साथ ही 1,071 करोड़ रुपये का EBITDA भी दर्ज किया गया।
मीडिया व्यवसाय: राजस्व सालाना आधार पर 30.7% बढ़कर 1,387 करोड़ रुपये रहा; EBITDA सालाना आधार पर 52.4% बढ़कर ₹253 करोड़ ($34 मिलियन) हो गया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *