मुकेश अंबानी की नजर अब QSR बिजनेस पर, Subway Inc के लिए बातचीत

नई दिल्‍ली। ग्रॉसरी, एड-टेक, म्यूजिक, ई-फार्मेसी, पेमेंट्स, फैशन और फर्नीचर के बाद मुकेश अंबानी की नजर अब क्विक सर्विस रेस्टोरेंट (QSR) बिजनेस पर है। सूत्रों के मुताबिक मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया की सबसे बड़ी सिंगलब्रांड रेस्टोरेंट चेन सबवे इंक (Subway Inc) की भारतीय फ्रेंचाइजी को खरीदने के लिए बातचीत कर रही है। यह सौदा 20 से 25 करोड़ डॉलर यानी 1,488 से 1,860 करोड़ रुपये का हो सकता है।
सैंडविच बनाने वाली कंपनी Subway Inc का मुख्यालय अमेरिका के कनेक्टीकट में है। कंपनी भारत में कई रीजनल मास्टर फ्रेंचाइजी के जरिए बिजनेस करती है। दुनियाभर में कंपनी रिस्ट्रक्चरिंग कर रही है।
टाटा ग्रुप से सीधा मुकाबला
अगर यह बातचीत मुकाम पर पहुंचती है तो इससे रिलायंस इंडस्ट्रीज की रीटेल यूनिट को पूरे भारत में सबवे के करीब 600 स्टोर मिलेंगे और उसे अपने कारोबार को फैलाने में मदद मिलेगी। क्यूएसआर मार्केट में रिलायंस रीटेल की एंट्री से उसका मुकाबला Domino’s Pizza, Burger King, Pizza Hut और Starbucks तथा उनके लोकल पार्टनर्स Tata Group और Jubilant Group से होगा। जानकारों के मुताबिक प्राइवेट इक्विटी कंपनियां भी सबवे की लोकल फ्रेंचाइजी ऑपरेशंस को खरीदने की कोशिश में हैं।
2017 में सबवे की कई भारतीय फ्रेंचाइजीज ने आपस में हाथ मिलाने और एक प्लेटफॉर्म बनाने की कोशिश की थी। उनकी TA Associates और Chrys Capital जैसे फाइनेंशियल इनवेस्टर्स से बात भी हुई थी लेकिन यह बातचीत किसी नतीजे पर नहीं पहुंची थी। सबवे किसी एक सिंगल पार्टनर के जरिए भारत में अपने कारोबार को फैलाना चाहती है। अभी कंपनी मास्टर फ्रेचाइजी नियुक्त करती है जो डायरेक्टली या सब-फ्रेंचाइजी के जरिए स्टोर्स चलाते हैं।
किसकी कितनी हिस्सेदारी
डाबर के प्रमोटर अमित बर्मन की Lite Bite Foods इनमें शामिल है। सबवे का मालिकाना हक Doctor’s Associates के पास है। यह कंपनी हर फ्रेंचाइजी से 8 फीसदी रेवेन्यू लेती है। भारत 18,800 करोड़ रुपये के संगठित QSR में इसकी 6 फीसदी हिस्सेदारी है। 21 फीसदी हिस्सेदारी के साथ डोमिनोज मार्केट लीडर है। मैकडॉनल्ड 11 फीसदी हिस्सेदारी के साथ दूसरे नंबर पर है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *