3.2 लाख से ज्यादा बैंक अधिकारियों की हड़ताल से बैंकिंग सेवाएं प्रभावित

नई दिल्‍ली। देश भर में शुक्रवार को बैंकिंग सेवाएं प्रभावित हुईं। 3.2 लाख से ज्यादा बैंक अधिकारी 11वें द्विपक्षीय वेतन संशोधन वार्ता के लिए बिना शर्त आदेश पत्र जारी करने की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं। देश के कुछ हिस्सों में एटीएम संचालन भी प्रभावित हुआ हालांकि शुक्रवार की हड़ताल से एटीएम को छूट दी गई है। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कंफेडेशन (एआईबीओसी) के सहायक महासचिव सजय दास ने आईएएनएस को बताया, “हमें अभी तक बहुत ही जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है।
3.2 लाख से ज्यादा सदस्य हड़ताल में शामिल हुए हैं। देश भर में बैंक बंद हैं। एटीएम संचालन सामान्य रहने की उम्मीद है क्योंकि यह हमारी हड़ताल का हिस्सा नहीं हैं लेकिन कुछ एटीएम बंद रहेंगे क्योंकि संचालकों ने हमारी मांग को नैतिक समर्थन दिया हुआ है।”
दास ने कहा कि यूनियन, मई 2017 को जमा हमारी मांगों के चार्टर के आधार पर 11वें द्विपक्षीय वेतन संशोधन वार्ता के लिए बिना शर्त आदेश पत्र जारी करने की मांग कर रही है।
वेतन पुनरीक्षण पर बातचीत शुरू होने के 19 महीने बीत जाने के बाद भी इस प्रक्रिया में अभी तक कोई कदम नहीं उठाया गया है।
युनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ने सार्वजनिक क्षेत्र के तीन बैंकों के विलय के विरोध में 26 दिसंबर को हड़ताल का आह्वान किया है। यूएफबीयू शीर्ष नौ बैंक संघों की एक इकाई है। दो दिनों की हड़ताल और छुट्टियों के साथ बैंक सोमवार को छोड़कर शुक्रवार से बुधवार तक बंद रहेंगे, जिससे बैंकिंग सेवाएं प्रभावित रहेंगी। उल्लेखनीय है कि बैंक शनिवार 22 तारीख और रविवार 23 दिसम्बर को बंद रहेंगे। 25 दिसम्बर को क्रिसमस डे का राष्ट्रीय अवकाश है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *