मिर्जापुर में मोदी का कांग्रेस पर हमला: कहा, कुछ लोग किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाते हैं

मिर्जापुर। लोकसभा चुनाव से पहले पूर्वांचल के दौरे पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को पूरी तरह से चुनावी मोड में दिखाई दिए। यूपी के किसान बहुल मिर्जापुर जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कांग्रेस का नाम लिए बिना तीखा हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि कुछ लोग किसानों के नाम घड़ियाली आंसू बहाते हैं लेकिन उनके हित के लिए कुछ नहीं किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि 40 साल से बाणसागर सिंचाई परियोजना लंबित पड़ी थी लेकिन पिछली सरकारों ने इसे पूरा करने के लिए कोई प्रयास नहीं किया।
यही नहीं, किसानों को उनके उत्‍पाद का उचित मूल्‍य मिले, इसके लिए भी एनडीए सरकार ने ही एमएसपी को डेढ़ गुना किया है।
भोजपुरी में अपने भाषण की शुरुआत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यह पूरा क्षेत्र दिव्‍य और अलौकिक है। विंध्‍य पर्वत और भागीरथी के बीच यह क्षेत्र सदियों से अपार संभावनाओं से भरा रहा है। पिछले दौरे में फ्रांस के राष्‍ट्रपति आए थे और मां विंध्‍यवासिनी के बारे में जानकर बहुत आश्‍चर्यचकित थे। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘पूर्वांचल के लोगों के जीवन का खेती किसानी अहम हिस्‍सा है। बाणसागर परियोजना से इस क्षेत्र के डेढ़ लाख हेक्‍टेयर जमीन की सिंचाई हो सकेगी।’
उन्‍होंने कहा, ‘इस परियोजना का खाका 40 साल पहले खींचा गया था लेकिन इस पर काम शुरू होते-होते 20 साल गुजर गए। इसके बाद के वर्षों में कई सरकारें आईं लेकिन यह परियोजना पूरी नहीं हुई। वर्ष 2014 में जब हमारी सरकार आई तो लटकी हुई परियोजनाओं में इसका नाम भी था। इसके बाद बाणसागर परियेाजना को पूरा करने के लिए सारी ऊर्जा लगा दी गई। योगी आदित्‍यनाथ की सरकार बनने के बाद बीते सवा साल में जिस गति से इस परियोजना को आगे बढ़ाया गया, उसके फलस्‍वरूप यह परियोजना पूरी हो पाई।’
अनुप्रिया के क्षेत्र में पटेलों को साधने की कोशिश
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछली सरकारों ने योजनाओं को पूरा करने पर ध्‍यान नहीं दिया। उन्‍होंने कहा, ‘जो लोग आजकल किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहाते हैं, उनसे आपको पूछना चाहिए कि आखिर क्यों उन्हें अपने शासन काल में देश भर में फैली इस तरह की अधूरी सिंचाई परियोजनाएं नहीं दिखाई दीं? क्यों ऐसे कार्यों को अधूरा ही छोड़ दिया गया? बाण सागर परियोजना उस अपूर्ण सोच, सीमित इच्छाशक्ति का भी उदाहरण है जिसकी एक बहुत बड़ी कीमत आप सभी को चुकानी पड़ी है। देश को भी आर्थिक रूप से नुकसान सहना पड़ा। लगभग 300 करोड़ के बजट से शुरू हुई ये परियोजना लगभग 3,500 करोड़ रुपए लगाने के बाद पूरी हुई है।
पटेल बहुल मिर्जापुर में पीएम मोदी ने अपना दल के संस्‍थापक सोनेलाल पटेल का भी जिक्र किया। उन्‍होंने कहा, ‘पूर्वांचल का विकास हमारी प्राथमिकता है। इस क्षेत्र के लिए, यहां के गरीब, वंचित, शोषित के लिए जो सपने सोनेलाल पटेल जैसे कर्मशील लोगों ने देखे, उनको पूरा करने की तरफ हम निरंतर आगे बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि पिछले सरकारों ने फसलों के एमएसपी बढाने की दिशा में कुछ नहीं किया। पहले किसानों पर सिर्फ राजनीति की गई।’
बता दें, कि सोनेलाल पटेल की बेटी अनुप्रिया पटेल मिर्जापुर से सांसद हैं।
दो साल में 5 करोड़ लोग गरीबी से बाहर निकले: पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा, ‘हमने एमएसपी को डेढ़ गुना करने का वादा किया था जिसे पूरा किया है। उन्‍होंने कहा कि एमएसपी को बढ़ाने से किसानों को बहुत लाभ होगा। हमारी सरकार किसानों की दिक्‍कतों को दूर करने के लिए काम कर रही है। मिर्जापुर के मेडिकल कॉलेज के बनने पर आसपास के जिलों के लोगों को फायदा होगा।’ उन्‍होंने कहा कि पिछले दो साल में 5 करोड़ लोग गरीबी से बाहर निकले हैं, इसमें केंद्र की योजनाओं का प्रभाव है।
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वांचल के अपने दौरे के दूसरे दिन मिर्जापुर में करीब 4008 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की सौगात दी। प्रधानमंत्री मोदी 3420 करोड़ की बाणसागर सिंचाई परियोजना और वाराणसी को मिर्जापुर से जोड़ने वाले चुनार पुल का लोकार्पण किया। इस पुल को बनाने में 69 करोड़ रुपये का खर्च आया है। प्रधानमंत्री मोदी केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण राज्‍यमंत्री मंत्री अनुप्रिया पटेल के संसदीय क्षेत्र मिर्जापुर में मेडिकल कॉलेज का शिलान्‍यास किया।
यूपी के हर मंडल में एक मेडिकल कॉलेज: योगी
पिपराडाड़ में बनने जा रहे इस मेडिकल कॉलेज को बनाने में करीब 267 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। इसके अलावा पीएम मोदी मिर्जापुर की सीमा से लेकर इलाहाबाद तक नैशनल हाइवे नंबर 76 के चौड़ीकरण और उच्‍चीकरण के कार्य का भी शिलान्‍यास किया। इस मौके पर यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने ऐलान किया कि यूपी के हर मंडल में एक मेडिकल कॉलेज होगा। उन्‍होंने कहा कि विकास का यह कार्यक्रम पूर्वांचल का विकास करेगा। सरकार वर्षों से लंबित योजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जा रहा है। युवाओं को रोजगार दिया जा रहा है और वह भी बिना किसी गड़बड़ी के।
सीएम योगी ने कहा, ‘बाणसागर की यह परियोजना कोई नई नहीं है। यह बहुत पहले पूरी हो जानी चाहिए थी, लेकिन पहले की सरकारों में किसानों की भलाई करने की इच्छाशक्ति नहीं थी। किसानों की आकांक्षाओं को पूरा करने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है। वर्ष 1990 के बाद प्रदेश के अंदर चार बार समाजवादी पार्टी और चार बार बहुजन समाज पार्टी की सरकार रही, लेकिन विकास इनके एजेंडे में नहीं था इसलिए बाण सागर परियोजना उपेक्षित पड़ी रही। ‘
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »