विधायक आकाश विजयवर्गीय को भोपाल स्पेशल कोर्ट से जमानत मिली

इंदौर। बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय और विधायक आकाश विजयवर्गीय को भोपाल स्पेशल कोर्ट से जमानत मिल गई है। उन्हें 26 जून को क्रिकेट बैट से इंदौर नगर निगम के एक अधिकारी की पिटाई करने के लिए गिरफ्तार किया गया था। इससे पहले इंदौर की एक अदालत ने उनकी जमानत याचिका को खारिज कर दिया था और 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। आकाश को दोनों मामलों में जमानत दी गई है- नगर निगम के एक अधिकारी की पिटाई और राज्य में बिजली कटौती को लेकर राजबाड़ा में विरोध प्रदर्शन के मामले में। क्रमशः 50,000 और 20,000 रुपए की नकद जमानत दी गई है।
दरअसल, 26 जून को उनका एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वो इंदौर में नगर निगम अधिकारी की क्रिकेट बैट से पिटाई कर रहे थे। इस मामले में आकाश विजयवर्गीय और 10 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।
यह घटना उस समय हुई जब नगर निगम की एक टीम इंदौर में गंजी इलाके में एक जर्जर इमारत को गिराने पहुंची। आकाश ने इमारत को गिराने के निगम के अभियान के खिलाफ स्थानीय लोगों के साथ विरोध किया। अधिकारियों ने आकाश की चेतावनी पर ध्यान नहीं दिया तो इंदौर-3 विधानसभा क्षेत्र के विधायक ने अधिकारियों में से एक को पीटना शुरू कर दिया।
इस मामले पर बाद में आकाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘यह तो शुरुआत है, हम इस भ्रष्टाचार और गुंडाराज को समाप्त करेंगे। आवेदन, निवेदन और फिर दना-दन। यह हमारा लाइन ऑफ एक्शन है। मुझे पता चला कि कुछ इमारतों को कुछ कांग्रेसी नेताओं द्वारा नगर निगम के साथ मिलकर ध्वस्त किया जा रहा है। मैंने उनसे अनुरोध किया कि अगर मेरे क्षेत्र में कोई काम हो रहा है तो वे मुझे लूप में रखेंगे लेकिन उन्होंने मुझे गंभीरता से नहीं लिया।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »