सिर्फ चेहरा देखने के काम ही नहीं आता Mirror

Mirror सिर्फ चेहरा देखने के काम ही नहीं आता बल्कि किसी भी घर में एक डेकोरेटिव पीस की तरह भी काम करता है। खाली दीवार पर एक Mirror और उसके साथ कुछ डेकोरेटिव छोटे पीस दीवार पर गैलरी वॉल कोलाज क्रिएट कर सकते हैं।
इतना ही नहीं, Mirror लाइट बैलेंस के काम भी आते हैं। मिरर्स में आपको कई ऑप्शंस मिल जाएंगे। शीशा किस जगह के लिए खरीदना है, इस बात का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।
जानें किस जगह के लिए चुनें कैसा Mirror…
लिविंग रूम
लिविंग रूम के लिए Mirror चुन रही हैं तो हॉरिजॉन्टल शेप चुनें। बड़ा हॉरिजॉन्टल मिरर सोफे के ऊपर लगाने से ज्यादा स्पेस दिखाई देता है। फर्नीचर को हाइलाइट करना चाहती हैं तो सादा सा Mirror किसी भी फर्निचर के ऊपर लगाएं।
गेस्टरूम
गेस्टरूम या बेडरूम में बड़ा सा Mirror लगाएं ताकि इसमे आपको सिर से लेकर पैर तक पूरा रिफलेक्शन दिखाई दे। बेड के ऊपर राउंड वॉल मिरर भी लगा सकती हैं।
बाथरूम
बाथरूम में Mirror लगाना बेहद जरूरी है। यहां बड़ा शीशा लगवाएं। बाथरूम में सिंक के ऊपर भी शीशा लगवा सकती हैं। शीशे के ऊपर प्रॉपर लाइटिंग करना न भूलें।
एंट्रेंस
घर के एंट्रेस पर डेकोरेटिव मिरर लगा सकती हैं। फ्रेम वाले Mirror लाकर इस पर खुद भी डेकोरेशन कर सकती हैं।
ये भी ध्यान रखें
Mirror खरीदते वक्त इसके वजन का ध्यान जरूर रखें क्योंकि छोटे और हल्के शीशे तो ग्लू से चिपक जाएंगे या कील में टांगे जा सकते हैं लेकिन भारी शीशों को लगाने के लिए किसी कारीगर की मदद लें।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »