छोटे, मध्यम ज्वेलर्स को ‘बुलियन’ उपलब्ध कराए सरकार

मथुरा। आज ऑल इंडिया ज्वेलर्स एंड गोल्डस्मिथ फेडरेशन (All India Jewelers and Goldsmith Federation)  का एक प्रतिनिधि मंडल राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज अरोरा, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष सुशील कुमार जैन, मथुरा महानगर विहिप कार्याध्यक्ष अमित जैन, दिल्ली क्षेत्र की अध्यक्ष सुमिता मलिक, ईशान आदि ने सांसद एवं अभिनेत्री हेमा मालिनी को एक ज्ञापन दिया जिसमें छोटे एवं मध्यम ज्वेलर्स एवं स्वर्णकार को 50 ग्राम की मात्रा में बैंक वाला सोना (बुलियन) सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जाने हेतु मांग रखी गई।

इस संबंध में माननीय सांसद एवं अभिनेत्री हेमा मालिनी को अपना ज्ञापन देते हुए आल इंडिया ज्वेलर्स & गोल्डस्मिथ फेडरेशन के राष्ट्रीय प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि छोटे एवं मध्यम ज्वेलर्स एवं स्वर्णकार को बैंक के माध्यम से अथवा बाजार में 50 ग्राम की बार के रूप में बुलियन उपलब्ध कराया जाए। क्योंकि छोटे एवं मध्यम ज्वेलर्स और स्वर्णकार को अक्सर कम मात्रा में बुलियन की जरूरत पड़ती है, जो कि अभी नॉमिनेटेड एजेंसिस या बैंक द्वारा उपलब्ध नहीं कराते है, जिसकी वजह से उन्हें हालमार्क वाले गहने बनाने में भारी परेशानी हो रही है ।

इस संबंध में बात करते हुए माननीय सांसद एवं अभिनेत्री हेमा मालिनी ने भरोसा दिलाया कि वह प्रतिनिधि मंडल के द्वारा दिए गए ज्ञापन को अध्ययन कर उसको आगे वित्त मंत्रालय में भेजकर श्रीमती निर्मला सीतारमण वित्त मंत्री भारत सरकार से इस बात को पहुचाने हेतु और उस पर अग्रिम कार्यवाही हेतु एक मुलाकात आने वाले समय में कराने कि कोशिश करेंगी।

ऑल इंडिया ज्वेलर्स एवं गोल्डस्मिथ फेडरेशन भारतवर्ष के छोटे एवं मध्यम ज्वेलर्स का शीर्ष संगठन है पिछले काफी समय से छोटे एवं मध्यम ज्वैलर्स लगातार इस बात को उठा रहे हैं कि उनको बैंक से 50 ग्राम या उसके आसपास बार के रूप में सोना नहीं मिलता है जिस वजह से छोटे एवं मध्यम ज्वेलर्स को मजबूरी में बाजार से मेटल खरीदना पड़ता है जो की शुद्धता की कसौटी पर ठीक नहीं मिलता है, ऐसी स्थिति में सरकार को 24 कैरेट गोल्ड के हॉलमार्क को आवश्यक रूप से अनिवार्य करना चाहिए। संगठन का मुख्य उद्देश है कि प्रत्येक भारतीय को सोने की गुणवत्ता मे पारदर्शिता का जेवर मिलना चाहिए।

– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *