मोदी सरकार के खिलाफ ममता बनर्जी की कोलकाता में मेगा रैली

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कोलकाता में शनिवार को मोदी सरकार के खिलाफ मेगा रैली कर रही हैं। लोकसभा चुनावों से पहले इसे विपक्ष के एकजुट होने और केंद्र सरकार को सत्ता से बेदखल करने की हुंकार के तौर पर देखा जा रहा है। रैली में 19 क्षेत्रीय दलों ने अब तक समर्थन का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी रैली को नैतिक समर्थन देने का ऐलान करते हुए टीएमसी सुप्रीमो को पत्र लिखा है।
राहुल ने दीदी को दिया समर्थन
कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने पत्र में ममता को दीदी का संबोधन देते हुए मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ संघर्ष में अपना समर्थन दिया है। बता दें कि बंगाल में ममता समर्थकों के बीच दीदी के उपनाम से लोकप्रिय हैं। ज्यादातर अन्य दलों के नेता भी ममता के लिए इसी संबोधन का प्रयोग करते हैं। चिट्ठी में राहुल ने लिखा कि बंगाल की जनता हमेशा ही जनविरोधी ताकतों के साथ खड़ी रही है। मोदी सरकार के खिलाफ इस वक्त पूरे देश में आक्रोश है और टीएमसी के इस प्रयास का कांग्रेस पार्टी पूरा समर्थन करती है। कांग्रेस की तरफ से रैली में मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल होंगे।
रैली से पहले ममता की मोदी सरकार को ललकार
तल्ख अंदाज में केंद्र की मोदी सरकार की आलोचना करनेवाली ममता बनर्जी ने रैली से पहले भी जोरदार हुंकार भरी। उन्होंने कहा कि यह रैली लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी के लिए मृत्यु-नाद की मुनादी होगी। भगवा पार्टी के कुशासन के खिलाफ संयुक्त लड़ाई का संकल्प है। बीजेपी के कुशासन के खिलाफ यह संयुक्त भारत रैली होगी। यह बीजेपी के लिये मृत्युनाद की मुनादी होगी… आम चुनाव में भगवा पार्टी 125 से अधिक सीटें नहीं जीत पाएगी। राज्य की पार्टियों द्वारा जीती गयी सीटों की संख्या भाजपा की तुलना में अधिक होगी।’
कई बड़े दिग्गज जुटेंगे एक मंच पर
देश में आम चुनाव से पहले शक्ति प्रदर्शन के लिए ममता ने विशाल रैली का अयोजन किया है जिसमें उनके लाखों समर्थकों के शामिल होने की संभावना है। बीजेपी विरोधी मुख्यमंत्रियों में अरविंद केजरीवाल, एच कुमारस्वामी, एन चंद्रबाबू नायडू के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, डीएमके के एम के स्टालिन, बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के अलावा अन्य नेताओं के शामिल होने की संभावना है।
अखिलेश होंगे शामिल, मायावती भेजेंगी प्रतिनिधि
ममता बनर्जी के साथ मंच पर समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव, बीएसपी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा, एनसीपी नेता शरद पवार, आरएलडी नेता चौधरी अजीत सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, दलित नेता जिग्नेश मेवाणी और झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख बाबूलाल मरांडी भी मौजूद रहेंगे।
नेताओं के लिए ममता की खास चाय पार्टी
रैली में शामिल होने वाले नेताओं के लिए बंगाल की मुख्यमंत्री ने विशेष चाय पार्टी का भी आयोजन किया है। ममता ने खुद इस चाय पार्टी आयोजन की जानकारी देते हुए कहा, ‘बैठक के बाद विपक्षी नेताओं के लिए एक चाय पार्टी का आयोजन किया जाएगा। हम चाय पीएंगे और विपक्षी नेताओं के साथ बातचीत करेंगे।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »