22 अप्रैल को होंगे MCD दिल्ली के चुनाव, 27 मार्च से नामांकन शुरू

MCD election to be on April 22, nominations filed from March 27
22 अप्रैल को होंगे MCD दिल्ली के चुनाव, 27 मार्च से नामांकन शुरू

नई दिल्‍ली। MCD चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है। दिल्ली के तीनों नगर निगमों के चुनाव के लिए 22 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे।

वोटिंग सुबह 8 बजे से शाम साढ़े 5 बजे तक होगी। 27 मार्च से नामांकन शुरू हो जाएंगे। नामांकन की आखिरी तारीख 3 अप्रैल है। 25 अप्रैल को वोटों की गिनती की जाएगी।

राज्य चुनाव आयोग ने साथ में यह भी स्पष्ट किया है कि वोटिंग EVM के जरिए ही होगी। राज्य निर्वाचन आयुक्त एस.के. श्रीवास्तव ने कहा कि EVM के जरिये ही वोट डाले जाएंगे। दरअसल दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आयोग को खत लिखकर एमसीडी के चुनाव EVM के बजाय बैलट पेपर से कराने की मांग की थी।

तारीखों के ऐलान के साथ ही दिल्ली में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है।

अभी दिल्ली के तीनों नगर निगमों एनडीएमसी, एसडीएमसी और ईडीएमसी में बीजेपी का शासन है। एनडीएमसी और एसडीएमसी में पार्षदों की 104-104 सीटें हैं जबकि ईडीएमसी में पार्षदों की 64 सीटें हैं। तीनों नगर निगमों में महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत सीटें आरक्षित हैं। एनडीएमसी में 10 सीटें सिर्फ एससी महिलाओं, 42 सीटें महिलाओं और 10 सीटें एससी के लिए आरक्षित रखी गई हैं। एसडीएमसी में 8 सीटें सिर्फ एससी महिलाओं, 45 सीटें महिलाओं और 7 सीटें एससी के लिए आरक्षित की गई हैं। इसी तरह ईडीएमसी में 6 सीटें सिर्फ एससी महिलाओं, 27 सीटें महिलाओं और 5 सीटें एससी वर्ग के लिए आरक्षित रखी गई हैं।

एनडीएमसी चुनाव के लिए कुल 5,170 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। इसी तरह एसडीएमसी चुनाव के लिए 5,074 और ईडीएमसी चुनाव के लिए कुल 2,990 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं।

एमसीडी चुनावों में मुख्य तौर पर बीजेपी और कांग्रेस में मुकाबला होता आया है लेकिन इस बार अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी के चुनाव मैदान में आने से मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है। वहीं AAP से अलग हुए योगेंद्र यादव की पार्टी स्वराज इंडिया ने भी एमसीडी चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। इनके अलावा बीएसपी और जेडीयू भी चुनाव मैदान में होंगी। बीजेपी ने ऐलान किया है कि वह एमसीडी चुनावों में किसी भी मौजूदा पार्षद को टिकट नहीं देगी। पार्टी ने साथ ही यह तय किया है कि पार्षदों के किसी रिश्तेदार को भी टिकट नहीं मिलेगा।

ईवीएम से ही डाले जाएंगे वोट
राज्य चुनाव आयोग ने स्पष्ट किया है कि एमसीडी के लिए वोटिंग इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के जरिए ही होगी। दरअसल यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी की शानदार जीत के बाद बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने ईवीएम पर सवाल उठाया था। बाद में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने भी ईवीएम पर सवाल खड़े किए। केजरीवाल और दिल्ली कांग्रेस ने दिल्ली चुनाव आयोग से मांग की थी कि आगामी नगर निगम चुनाव में ईवीएम की जगह बैलट पेपर का इस्तेमाल हो। केजरीवाल ने मंगलवार को चुनाव आयोग को लिखे एक खत में एमसीडी चुनाव के दौरान बैलट पेपर से वोटिंग कराने की मांग की थी। बता दें कि आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने भी कहा था कि अगर यूपी में नगरपालिका और नगर निगम के चुनाव बैलट पेपर से कराए जा सकते हैं तो दिल्ली में भी ऐसा हो सकता है।

EVMs will be used in the upcoming municipal corporation elections in Delhi: SK Srivastava, State Election Commissioner pic.twitter.com/CeSlKhrtnc
— ANI (@ANI_news) March 14, 2017

sk-srivastava

दिल्ली के राज्य निर्वाचन आयुक्त एस. के. श्रीवास्तव (फोटो: ANI/ट्विटर)

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *