सरकारी बंगला हड़पने को मायावती की तिकड़मी चाल, 13 ए माल एवेन्यू पर लगाया कांशीराम गेस्ट हाउस का बोर्ड

लखनऊ। नए आशियाने में शिफ्ट करने की कवायद के बीच ही पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक और तिकड़मी चाल चल दी है। उन्होंने अपने सरकारी आवास 13 ए माल एवेन्यू पर गेस्ट हाउस का बोर्ड लगवा दिया है। बसपा के नीले रंग से रंगे इस बोर्ड पर कांशीराम की फोटो समेत ‘श्री कांशीराम जी यादगार विश्राम स्थल’ लिखा है।
इस बोर्ड से मायावती का मकसद साफ है कि सरकार और उनके अधिकारी इस बंगले को न छेड़ें ताकि वह यथावत बसपा के ही कब्जे में रहे। उनकी ये चाल कामयाब किस हद तक होती है ये तो वक्त ही बताएगा।
बता दें कि 13 ए माल एवेन्यू के पास ही मायावती का निजी मकान 9 माल एवेन्यू है, जो कि 70,000 वर्ग फीट से भी ज्यादा क्षेत्र में फैला हुआ है। इसकी रंगाई-पुताई का काम तेजी से चल रहा है। उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही मायावती इसमें शिफ्ट होंगी।
बसपा सुप्रीमो ने इस आलीशान बंगले को 2009-10 में 15 करोड़ में खरीदा था, जिसकी कीमत अब 25 करोड़ से ज्यादा ही होगी।
सुप्रीम कोर्ट द्वारा पूर्व मुख्यमंत्रियों के सरकारी आवास छोड़ने के आदेश के बाद यूपी के सभी पूर्व सीएम नए आशियाने के तलाश में जुट गए हैं। गृहमंत्री राजनाथ सिंह अपने 211 वर्ग फीट में बने बंगले में एक हफ्ते के भीतर ही शिफ्ट हो जाएंगे।
सूत्रों के मुताबिक गृहमंत्री राजनाथ सिंह आम आदमी की तरह ही बने आशियाने में शिफ्ट होंगे।
इसके बाद नंबर आता है पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का। मुलायम सिंह तीन बार यूपी के मुख्य मंत्री रह चुके हैं। जब पहली बार वे 1991 में सीएम की कुर्सी से हटे तो उन्हें 4 विक्रमादित्य मार्ग वाला घर मिला। मुलायम सिंह अब यहां अपनी दूसरी पत्नी साधना और छोटे बेटे प्रतीक के साथ रहते हैं। मुलायम के बंगले से 50 मीटर दूर प्रतीक यादव का आलीशान मकान बन रहा है लेकिन इसे तैयार होने में साल भर लग सकता है। तब तक के लिए मुलायम किसी किराए के घर में रहना चाहते हैं। उनके करीबी और समाजवादी पार्टी के सांसद संजय सेठ ने लखनऊ के गोमती नगर में मुलायम सिंह यादव को 15 करोड़ रुपये का बंगला तोहफे में देने की घोषणा की है।
सूत्रों के अनुसार संजय सेठ ने उन्हें गोमतीनगर के विपुलखंड स्थित सृजन विहार में 11 हजार वर्ग फीट में बनी एक कोठी दिखाई है। मुलायम सिंह यादव को ये कोठी पसंद भी आई है लेकिन सौदा अभी अटका हुआ है। ये कोठी सहारा प्रमुख सुब्रतो राय के आवास सहारा शहर के नजदीक ही है। ये घर बनारस के एक फार्मास्यूटिकल व्यवसायी आरके अरोड़ा का बताया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार ये कोठी खरीदने के लिए व्यवसायी से बातचीत की जा रही है।
वहीं, मुलायम सिंह यादव के बड़े बेटे व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इन दिनों मध्य प्रदेश के दौरे पर हैं। वे कब अपना सरकारी बंगला खाली करेंगे और फिर कहां रहेंगे, ये अभी तय नहीं हुआ है। सूत्रों के अनुसार गोमतीनगर विपुलखण्ड में ही उनके ससुर का घर है। हो सकता है अखिलेश यहीं रहें।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »