राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की हत्‍या पर मायावती ने कांग्रेस को घेरा

राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या मामले में राजनीति लगातार बढ़ती जा रही है। बीजेपी के बाद अब इस मामले में कांग्रेस को घेरने के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी मोर्चा खोल दिया है। बसपा अध्यक्ष मायावती ने घटना को निंदा करते हुए कांग्रेस आलाकमान को घेरा है। मायावती ने कहा है कि राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित की पीट-पीटकर की गई हत्या काफी दुखद और निंदनीय है। मायावती ने कहा है कि हनुमानगढ़ की इस घटना को लेकर कांग्रेस हाईकमान चुप क्यों है?
मायावती ने आगे सवाल किया है कि क्या छत्तीसगढ़ और पंजाब के मुख्यमंत्री वहां जाकर अब पीड़ित परिवार को 50-50 लाख रुपये की मदद देंगे?
लखीमपुर घटना पर योगी सरकार को घेरा
आपको बता दें कि मायावती ने जहां राजस्थान के हनुमानगढ़ में हुई घटना पर सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस को घेरा है वहीं यूपी के लखीमपुर की घटना को लेकर बीजेपी पर भी निशाना साधा है। मायावती ने कहा कि यूपी के लखीमपुर खीरी की घटना जघन्य है। इस कांड में केंद्रीय मंत्री के बेटे का नाम सुर्खियों में आना बीजेपी सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़े करता है। उन्होंने कहा कि ऐसे में बीजेपी अपने मंत्री से खुद ही इस्तीफा ले, तभी वहां पीड़ित किसानों को कुछ न्याय की उम्मीद हो सकती है।
बीजेपी ने भी कांग्रेस से पूछे सवाल
उल्लेखनीय है कि राजस्थान की घटना को लेकर बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने भी कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कटाक्ष करते हुए पूछा था कि अशोक गहलोत के साथ ही राहुल और प्रियंका गांधी, पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कब हनुमानगढ़ जाएंगे। इधऱ मायावती ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस दलितों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाती है, जिसे उन्हें बंद करना चाहिए।
जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले पर सरकार को घेरा
उल्लेखनीय है कि जहां मायावती ने राजस्थान के हनुमानगढ़ में हुई दलित युवक की हत्या और लखीमपुर घटना पर योगी सरकार को घेरा। वहीं जम्मू-कश्मीर की आतंकी घटनाओं पर प्रतिक्रिया व्यक्त की। मायावती ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में आतंकी आए दिन निर्दोष लोगों की हत्या कर रहे हैं। ये काफी दुखद और शर्मनाक है। उन्होंने केंद्र सरकार से इस तरह की घटनाएं रोकने के लिए केंद्र सरकार से सख्त कदम उठाने की अपील की।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *