Mayawati ने भतीजे आकाश को लेकर दी सफाई

नई दिल्ली। आज परिवारवाद के आरोपों पर दिल्ली में बसपा सुप्रीमो Mayawati ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें मायावती ने अपने भतीजे आकाश को लेकर सफाई दी है। Mayawati ने कहा है कि वो राजनीति में नहीं है परंतु मैं आकाश को बीएसपी आंदोलन से जोड़ूंगी।

Mayawati ने कहा कि बीएसपी परिवारवाद की पार्टी नहीं है। उन्होंने कहा कि आकाश जन्मदिन की वजह से मेरे साथ दिखाई दिया। बसपा प्रमुख ने लखनऊ में एक इमरजेंसी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी पर सीबीआई और आयकर विभाग के दुरुपयोग का आरोप लगाया। मायावती ने कहा कि सीबीआई और आईटी जानबूझकर उन्हें और आकाश आनंद को निशाना बना रहे हैं।

मायावती ने कहा, ‘लेकिन इससे हम पीछे नहीं हटेंगे और जोरदार जवाब देंगे। अब मैं आश्वस्त कर देना चाहती हूं कि मेरा भतीजा आकाश पार्टी की सभी गतिविधियों में हिस्सा लेगा।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं कांशी राम की शिष्या हूं। इसलिए जैसे को तैसा जवाब देने के लिए आकाश आनंद को बसपा के आंदोलन में शामिल करूंगी, अगर कुछ जातिवादी और दलित विरोध मीडिया के धड़े को इससे परेशानी है, तो हो. मेरी पार्टी इसकी परवाह नहीं करेगी।’

मायावती ने कहा कि बसपा की लोकप्रियता में बढ़ोत्तरी और सपा के साथ गठबंधन ने उन दलों और नेताओं में अशांति पैदा की है जो दलित और जातिवाद विरोधी हैं। हमें निष्पक्ष और वर्ग से लड़ने के बजाय वे हमारे खिलाफ अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं। कुछ जातिवादी और दलित विरोधी टीवी चैनलों के साथ षड्यंत्र कर रहे हैं।

मायावती ने कहा कि मैं कांशीराम जी की शिष्या हूं, इसलिए ‘जैसे को तैसा’ का जवाब देने के लिए मैं आकाश को बसपा आंदोलन में शामिल करूंगी और उन्हें सीखने का मौका दूंगी। अगर मीडिया के कुछ जातिवादी और दलित-विरोधी तबके के साथ कोई समस्या है तो उसे रहने दें। हम इसकी परवाह नहीं करते हैं।

मायावती ने इस मौके पर कांग्रेस पर भी निशाना साधा और कहा, “जिन राज्यों में कांग्रेस ने कर्जमाफी के वादे किए थे, वहां से अब शिकायतें आने लगी हैं। एक बार देश के सारे किसानों का पूरा कर्ज माफ किया जाना चाहिए और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को पूरी ईमानदारी और प्रतिबद्धता से लागू किया जाना चाहिए, तभी किसानों की समस्याओं का स्थायी समाधान निकलेगा, वरना किसान आत्महत्या करते रहेंगे।”

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *