Maulana कल्बे जव्वाद ने बताया, एएमयू से क्‍यों निकाले गए थे आजम खान

अलीगढ़। भूमाफिया घोषित किए गए समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के ऊपर चल आरोपों को लेकर एक और खुलासा हुआ है। एक Maulana कल्बे जव्वाद ने आजम खान के चरित्र पर सवाल उठाया है। मौलाना ने कहा कि आजम खान जब अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे थे, तब वह फीमेल वॉर्ड में घुस गए थे। जांच के बाद दोषी पाए जाने पर उन्हें यूनिवर्सिटी से निष्काषित कर दिया गया था।

शिया धर्मगुरु Maulana कल्बे जव्वाद ने कहा कि आजम खान अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से लॉ में मास्टर्स (एलएलएम) कर रहे थे। आजम उस समय एएमयू छात्रसंघ के सचिव हुआ करते थे। एक दिन आजम खान ने यूनिवर्सिटी के अस्पताल में जबरन फीमेल वॉर्ड के अंदर घुसने का प्रयास किया।

कल्बे जव्वाद ने कहा कि फीमेल वॉर्ड में जबरन घुसने के प्रयास के कारण आजम खान के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की गई थी। यूनिवर्सिटी की तरफ से जांच समिति बनाई गई और जांच समिति ने आजम को दोषी पाया था। दोषी पाए जाने के बाद आजम के खिलाफ सख्त कार्यवाही करते हुए उन्हें 6 अक्टूबर 1975 को यूनिवर्सिटी से निष्काषित कर दिया गया था। जव्‍वाद ने आरोप लगाया कि उसी साल आजम खान जेल भी भेजे गए थे।

बता दें कि आजम खान को लेकर हाल ही में विवाद सामने आया था। लोकसभा की अध्यक्षता कर रही बीजेपी सांसद रमा देवी पर कार्यवाही के दौरान आजम ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इसके बाद आजम खान का चौतरफा विरोध हुआ था। आखिरकार बाद में आजम खान को लोकसभा के अंदर सबके सामने सासंसद रमा देवी से माफी मांगनी पड़ी थी।

यह पहली बार नहीं था, जब आजम खान ने किसी महिला पर आपत्तिजनक टिप्पणी की हो। इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा को लेकर भी अभद्र टिप्पणी की थी जिसके बाद उनके खिलाफ कई मामले दर्ज हुए थे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »