माया सभ्यता के खोए हुए हिस्सों का पता लगाने को नक्शा तैयार

ग्वाटेमाला सिटी। पुरातत्वविदों ने माया सभ्यता के खोए हुए हिस्सों का पता लगाने के लिए एक नक्शा तैयार किया है। इसकी मदद से अब कई रहस्यों से पर्दा हटाया जा सकेगा। 2000 ईसवीं पूर्व तक माया सभ्यता के कई निर्माणकार्य ऐसे थे जो मेक्सिको, ग्वाटेमाला, बेलीज और होंडुरास के पश्चिमी हिस्सों में अभी तक पाए जा सकते हैं।
पुरातत्वविदों ने कई दशकों तक नक्शा तैयार कर माया सभ्यता के बारे में जानने की कोशिश की। अब LIDAR (लाइट डिटेक्शन एंड रेंजिंग) तकनीक की मदद से इन ढांचों के ऊपर बने जंगलों को डिजिटली हटाकर देखा जा सका है। इसके साथ ही कोलंबियाई सभ्यता के निशान मिले हैं।
विशाल प्राचीन मंदिर
LIDAR डेटा से इशारा मिला है कि यहां एक विशाल मंदिर है। इस क्षेत्र में माया सभ्यता के शहर हुआ करते थे। माना जा रहा है कि पहले के आंकलन के मुकाबले यहां कई लाख लोग और रहते होंगे। इन जंगलों के नीचे कई ऐसे प्राचीन राज छिपे हैं जिन्हें नई तकनीक की मदद से खोजा जा रहा है। एक्सपर्ट्स इनकी मदद से नक्शा तैयार कर रहे हैं जिस पर चलकर प्राचीन सभ्यता के अनछुए पहलुओं की खोज की जा रही है।
हजारों ढांचे, सड़कें भी
रिसर्चर्स ने उत्तरी पीटन में 810 स्क्वेयर मील के क्षेत्र के ऊपर लेजर से लैस प्लेन उड़ाकर ऐसे करीब 60, 000 ढांचे और रास्ते खोजे हैं। इनका 3D मैप तैयार किया गया है। यही नहीं, इसके अलावा यहां सिंचाई व्यवस्था के संकेत भी मिले हैं। माना जा रहा है कि इनकी मदद से ही सबसे अडवांस्ड प्राचीन सभ्यताओं में से एक को कृषि का आधार खड़ा करने में मदद मिलती होगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *