500 लोगों की भर्ती करेगी AD सिरिंज निर्माता कंपनी HMD

नई दिल्‍ली। कोविड-19 टीकाकरण के लिए जरूरी आटो डिसेबल्ड (AD) सिरिंज की कमी न पड़े, इसके लिए देश में ही सिरिंज का उत्पादन बढ़ाया जा रहा है। इसी क्रम में दुनिया के सबसे बड़े आटो डिसेबल्ड सिरिंज की निर्माता कंपनी हिंदुस्तान सिरिंज एंड मेडिकल डिवाइसेज लिमिटेड (hmdhealthcare) 500 लोगों की भर्ती करेगी। यह भर्ती अगले जून महीने तक हो जाएगी।

अगले जून तक बढ़ेगी उत्पादन क्षमता
एचएमडी लिमिटेड ने यहां जारी एक बयान में यह जानकारी दी। कंपनी का कहना है कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान में मदद करने के लिए सिरिंज उत्पादन क्षमता 100 करोड़ प्रति वर्ष करने की जरूरत है। इसके लिए कंपनी 500 श्रमिकों की भर्ती करेगी। उनका कहना है कि इस समय कोरोना की दूसरी लहर में श्रमिकों की आपूर्ति पर असर पड़ा है। उत्तर प्रदेश में चल रहे पंचायत चुनाव, फसलों की कटाई और शादी-ब्याह के मौसम की वजह से अभी श्रमिकों की कमी है।

3200 श्रमिकों की जरूरत
एचएमडी के एमडी राजीव नाथ ने कहा कि इस समय उनके पास श्रमबल की भारी कमी है। हर साल 100 करोड़ सिरिंज बनाने की क्षमता हासिल करने के हमारे लक्ष्य तक पहुंचने के लिए, टीम को मजबूत करना होगा। इसके लिए 3,200 श्रमिकों की जरूरत है। लेकिन वर्तमान में कंपनी के पास 2,700 ही कर्मचारी हैं। इस साल जून तक सिरिंज का उत्पादन 100 करोड़ इकाई करने के हमारे लक्ष्य को पाने के लिए हमारे पास 500 लोग कम हैं।

देश विदेश में जाते हैं कंपनी के सिरिंज
कंपनी ने कहा कि एचएमडी, डिस्पोजेबल सिरिंज का एक प्रमुख मैन्यूफैक्चरर है। कोविड-19 टीकाकरण के काम में कंपनी डब्ल्यूएचओ, ब्राजील और जापान की कोवैक्स सुविधा के लिए बेहद आवश्यक सिरिंज का एक प्रमुख अंतरराष्ट्रीय आपूर्तिकर्ता है। कंपनी ने कहा है कि भारत सरकार से प्राप्त 44.25 करोड़ सिरिंज के आर्डर में से अप्रैल के अंत तक 0.5 मिली एडी सिरिंज की 21.75 करोड़ सिरिंज की आपूर्ति हो गई है। शेष सिरिंज की आपूर्ति सितंबर तक की जाएगी।

फिलहाल विदेशी ऑर्डर नहीं ले रही कंपनी
नाथ ने कहा कि कंपनी ने भारतीय ऑर्डर को पूरा करने के लिए दो-तिहाई से अधिक क्षमता आरक्षित कर दी है। इस समय कई विदेशी नए संभावित खरीदारों के ऑर्डर को अस्वीकार कर दिया है क्योंकि प्राथमिकता अपना देश है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *