नेहरू मेमोरियल को लेकर चिंतित मनमोहन ने लिखा मोदी को पत्र

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर नेहरू मेमोरियल म्यूजियम के ‘स्वरूप और प्रकृति’ बदलने की कोशिशों लेकर चिंता जाहिर की है। अपने पत्र में पूर्व पीएम ने लिखा है कि नेहरू सिर्फ कांग्रेस पार्टी के नहीं हैं, बल्कि वह पूरे देश के हैं। उन्होंने कहा कि तीन मूर्ति स्थित नेहरू के आवास में कोई भी बदलाव न किया जाए।
अपने पत्र में मनमोहन सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में भी तीन मूर्ति स्थित नेहरू म्यूजियम ऐंड लैबोरेटरी (एनएमएमएल) में बदलाव की कोशिश नहीं की गई थी। उन्होंने पत्र में कहा, ‘लेकिन वर्तमान सरकार ने इसे अपना एजेंडा बना लिया है।’
पूर्व पीएम का पत्र उन खबरों के बाद सामने आया, जिनमें कहा जा रहा था कि सरकार एनएमएमएल और तीन मूर्ति कॉम्पलेक्स में परिवर्तन की तैयारी कर रही है। खबरें हैं कि सरकार इसे सभी प्रधानमंत्रियों का मेमोरियल बनाना चाहती है। कांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया है कि सरकार नेहरू की विरासत को खत्म करना चाहती है।
अपने पत्र में मनमोहन सिंह ने कहा कि सरकार की संशोधन नीति कभी नेहरू के किरदार और राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को कम नहीं कर सकती। उन्होंने वाजपेयी के हवाले से कहा, ‘नेहरू की तरह अब कोई भी तीन मूर्ति की शोभा नहीं बढ़ा सकता। उनके जैसी जीवंत शख्सियत, विपक्ष को साथ लेकर चलने की उनकी कला, उनकी सज्जनता और महानता शायद ही कभी भविष्य में दिखे। मतभेदों के बावजूद उनके आदर्शों, देशप्रेम और अतुलनीय साहस के लिए सभी के मन में उनके लिए सम्मान है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »