मणिपुर के कांग्रेस प्रत्‍याशी हैं 100 करोड़ से ज्यादा के लोन डिफॉल्टर

जम्‍मू। पंजाब नेशनल बैंक ने बाहरी मणिपुर से कांग्रेस पार्टी के लोकसभा प्रत्याशी किशिंग जेम्स को डिफॉल्टर बताते हुए चुनाव आयोग को पत्र लिखा है। बैंक के अध्यक्ष सुनील मेहता ने अपने पत्र में लिखा है कि के. जेम्स पर 100 करोड़ रुपये से अधिक का डिफॉल्ट है और यह बात उन्होंने अपने शपथ पत्र में छुपाई है इसलिए उनको चुनाव लड़ने से रोका जाए।
व्यक्तिगत तौर पर लिया था लोन
बैंक ने पत्र में लिखा है कि के. जेम्स ने नॉर्थईस्ट रीजन फाइनेंशियल सर्विस लिमिटेड के निदेशक और व्यक्तिगत गारंटर के तौर पर लोन का आवेदन किया था। इस लोन को बैंक ने नगद दिया था।
बिना बताए दिया कंपनी से इस्तीफा
बैंक ने 28 मार्च को जारी किए इस पत्र में आगे लिखा है कि जेम्स ने बिना उसे बताए कंपनी से इस्तीफा दे दिया, जो कि लोन के प्रावधानों का उल्लंघन है। बैंक का कहना कि वो चुनाव लड़ने के दौरान यह बताना चाहते हैं कि उनके ऊपर किसी तरह का लोन नहीं है।
कार्यवाही करने का दिया निर्देश
मणिपुर के मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय ने बैंक अध्यक्ष सुनील मेहता का पत्र मिलने के बाद थोबुल जिले के जिला निर्वाचन अधिकारी को कार्यवाही करने का निर्देश दिया है।
विलफुल डिफॉल्टर घोषित करने की तैयारी
पीएनबी जेम्स को विलफुल डिफॉल्टर घोषित करने की तैयारी कर रही है। ऐसा इसलिए क्योंकि तीन साल बाद भी उन्होंने एक भी किश्त जमा नहीं की, जिसके चलते यह लोन एनपीए घोषित हो चुका है। बैंक ने बताया कि किशलिंग से 116 करोड़ रुपये की रिकवरी करनी है।
बैंक ने इस संबंध में गुवाहाटी स्थित डेट रिकवरी ट्रिब्यूनल में रिकवरी के लिए 30 दिसंबर 2017 को एक केस भी फाइल कर रखा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »