खेल से ख‍िलवाड़: माइकल वॉन ने कहा, यह सब पैसे और IPL के लिए हुआ

नई द‍िल्‍ली। इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने कहा, “मुझे यह आश्चर्यजनक लगता है कि भारत मैच खेलने के लिए 20 सदस्यीय टीम के 11 खिलाड़ियों को नहीं उतार कर सका।” एक हफ्ते में हम इन्‍हीं खिलाड़ियों को आईपीएल में मुस्कुराते देखेंगे।

माइकल वॉन का मानना है कि भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां टेस्ट मैच आईपीएल को फायदा पहुंचाने के लिए रद्द किया गया। वॉन ने साथ ही कहा कि भारतीय खिलाड़ियों को RT-PCR टेस्ट पर भरोसा करना चाहिए था।

माइकल वॉन ने द टेलीग्राफ के लिए लिखे कॉलम में कहा, “ईमानदारी से कहूं तो यह सब पैसे और आईपीएल को लेकर हुआ है। पांचवां टेस्ट रद्द कर दिया गया है, क्योंकि खिलाड़ियों को कोरोना संक्रमण के खतरे और आईपीएल को मिस करने से डर लग रहा होगा। एक हफ्ते में हम आईपीएल देखेंगे और खिलाड़ी मुस्कुराते और खुश होकर इधर-उधर दौड़ेंगे लेकिन उन्हें पीसीआर टेस्ट पर भरोसा करना चाहिए था। हम अब इस वायरस के बारे में बहुत कुछ जानते हैं. अब हम इसे बेहतर तरीके से संभालना जानते हैं।”

पूर्व कप्तान ने आगे कहा, “मुझे यह आश्चर्यजनक लगता है कि भारत मैच खेलने के लिए 20 सदस्यीय टीम के 11 खिलाड़ियों को नहीं उतार कर सका। अगर ऐसे खिलाड़ी थे जो अलग होना चाहते थे और खेलना नहीं चाहते थे, तो ठीक है. यह व्यक्तिगत पसंद के बारे में है लेकिन भारत को 11 खिलाड़ियों को मैदान पर उतारने के लिए हर संभव कोशिश करनी चाहिए थी, भले ही इसका मतलब तीसरी स्ट्रिंग टीम चुनना ही क्यों न हो। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में बहुत सारे रिजर्व खिलाड़ियों के साथ जीत हासिल की थी।”

वॉन ने कहा, “उन्हें इस खेल में अपनी भूमिका निभानी चाहिए थी, जैसे इंग्लैंड को पिछले साल दक्षिण अफ्रीका में अपने मुकाबलों को पूरा करना चाहिए था। जब गुरुवार की रात भारतीय टीम के पीसीआर टेस्ट सभी निगेटिव आए तो मेरे लिए यह हरी झंडी थी कि मैच आगे बढ़ना चाहिए। क्रिकेट के खेल को इस टेस्ट मैच की जरूरत थी। सीरीज शानदार ढंग से तैयार की गई थी। यह सही नहीं था कि टॉस से 90 मिनट पहले एक टेस्ट मैच रद्द किया जा सकता है।” वॉन ने कहा कि अगर गुरुवार को रद्द करने की घोषणा की जाती तो यह प्रशंसकों को मैनचेस्टर की यात्रा करने से बचा लेता।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *