Mallya ने प्रत्यर्पण के खिलाफ हाईकोर्ट में दूसरी बार लगाई याचिका

लंदन। भगोड़े शराब कारोबारी विजय Mallya (63) ने प्रत्यर्पण के खिलाफ यूके के हाईकोर्ट में शुक्रवार को दूसरी बार याचिका दायर की। पहली याचिका 5 अप्रैल को खारिज हो गई थी। उसके बाद मौखिक रूप से सुनवाई की अर्जी देने के लिए 5 कामकाजी दिनों का वक्त मिला था। लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने दिसंबर में Mallya के भारत प्रत्यर्पण की इजाजत दी थी। फरवरी में यूके के गृह विभाग ने भी मंजूरी दे दी थी। उसके बाद माल्या ने फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। ज्ञात रहे कि ब्रिटिश हाईकोर्ट ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय Mallya की प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील दायर करने की पहली अर्जी ठुकरा दी है। कोर्ट के इस फैसले से माल्या को जल्द भारत लाने की उम्मीद बढ़ गई है। विजय माल्‍या ने 14 फरवरी को प्रत्यर्पण आदेश के खिलाफ अपील दायर करने की अनुमति मांगी थी।

भारतीय बैंकों के 9,000 करोड़ रुपए का बकायेेेेदार है माल्या 
माल्या के खिलाफ फ्रॉड, मनी लॉन्ड्रिंग, फेमा के उल्लंघन के आरोप हैं। उस पर भारतीय बैंकों के 9,000 करोड़ रुपए बकाया हैं। माल्या की किंगफिशर एयरलाइंस ने बैंकों से लोन लिया था। मार्च 2016 में माल्या लंदन भाग गया। मुंबई की विशेष अदालत (पीएमएलए)
उसे भगोड़ा घोषित कर चुकी है। प्रवर्तन निदेशालय देश-विदेश में उसकी संपत्तियां अटैच कर चुका है।

Vijay Mallya renews application भारतीय बैंकों का करीब नौ हजार करोड़ का गबन करने वाले और मनी लांड्रिंग केस में फंसे शराब कारोबारी विजय माल्‍या ने ब्रिटेन की हाईकोर्ट में भारत के प्रत्यर्पण के खिलाफ एक बार फिर आवेदन किया है। 63 वर्षीय पूर्व किंगफिशर एयरलाइंस का बॉस पिछले शुक्रवार को अदालत में “अपील करने के लिए छुट्टी” की मांग करने वाले एक आवेदन में अपने पहले प्रयास में विफल रहा।

हाईकोर्ट के जज से पहली संक्षिप्त मौखिक सुनवाई के लिए पुन: आवेदन के लिए पांच व्यावसायिक दिन मिले हैं, जहां उनके वकील ने भारत को प्रत्यर्पित किए जाने के खिलाफ अपने मामले को आगे बढ़ाया है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »