Mallika Sherawat ने सुषमा स्वराज से मांगी मदद

नई दिल्ली। Mallika Sherawat को लेकर इन दिनों खबरों का बाजार गर्म है. कुछ दिन पहले उनके फ्रांसीसी बॉयफ्रेंड के दीवालिया होने की खबरें आई थीं, जिसे लेकर मल्लिका ने खंडन भी किया था. अब मल्लिका शेरावत ने भारत में बच्चों की मानव तस्करी और यौन शोषण से लड़ने वाली एक गैर सरकारी संगठन ‘फ्री अ गर्ल इंडिया’ के साथ हाथ मिलाया है. उन्होंने एक कदम आगे बढ़कर इस एनजीओ की मदद करने की कोशिश की है, जिसके लिए उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से ट्विटर पर गुहार लगाई है.

Mallika Sherawat ने ट्वीटर के जरिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से अनुरोध किया कि वे ‘फ्री अ गर्ल’ एनजीओ की सह-संस्थापक की मदद करें, जिन्हें बार-बार भारतीय वीजा देने से मना किया जा रहा है. ‘फ्री ए गर्ल’ आंदोलन की सह-संस्थापक एवलियेन होल्स्केन को बार-बार भारतीय वीजा देने से मना किया गया है. उनका एनजीओ भारत में बाल तस्करी और महिला कल्याण के क्षेत्र में असाधारण काम करने के लिए जाना जाता है.

मल्लिका शेरावत ‘स्कूल फॉर जस्टिस’ की ब्रांड एंबेसडर भी हैं. ये स्कूल फ्री-अ-गर्ल एनजीओ की अनोखी पहल है. इसके तहत, वेश्यालयों से बचाई गई लड़कियों को शिक्षा, प्रशिक्षण और समर्थन प्रदान करके व्यवस्था को बदलने में मदद देने का काम किया जाता है. इसके जरिए लड़कियों को वकील बना कर न्यायिक व्यवस्था के भीतर काम करने के लिए सक्षम बनाया जाता है.

Mallika Sherawat का कहना है, “मैं इस मुद्दे को ले कर काफी संवेदनशील हूं और चाहती हूं कि सरकार इस एनजीओ की सह-संस्थापक को भारतीय वीजा दिलाने में मदद करे. इस एनजीओ की सह-संस्थापक भारतीय बच्चों और महिला कल्याण के लिए अथक प्रयास कर रही हैं. सुषमा स्वराज जी ने हमेशा ऐसे मुद्दों का समाधान निकाला है और मैं उनसे सकारात्मक प्रतिक्रिया की उम्मीद कर रही हूं.”
-एजेंसी