KD मेडिकल कॉलेज में बोलीं रूपा दीदी, कमजोरी को ताकत बनाएं

मथुरा। हम जैसा सोचते हैं, वैसा ही प्राप्त करते हैं। नकारात्मक सोच जहां हमें निराशावादिता और नाकामी की ओर ले जाती है वहीं सकारात्मक विचार हमें सफलता की ओर अग्रसर करते हैं। सच यह है कि आपके विचार ही आपके जीवन को आकार देते हैं लिहाजा हमेशा सकारात्मक सोचें और अपनी कमजोरी को ही अपनी ताकत बनाएं। यह बातें ब्रह्मा कुमारी मेडिकल विंग की बी. के. रूपा दीदी ने गुरुवार को के. डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के सभागार में आयोजित कार्य जीवन में संतुलन और सकारात्मक सोच विषय पर हुए सेमिनार में प्राध्यापकों, मेडिकल कर्मचारियों तथा एम.बी.बी.एस. के छात्र-छात्राओं को बताईं।

रूपा दीदी ने कहा कि आपकी सोच आपके कार्यों, निर्णयों, प्रतिक्रियाओं, रिश्तों और व्यवहार को प्रभावित करती है। आज के दौर में परेशानियां अनगिनत हैं बावजूद इसके आप अपनी यथार्थवादी, संतुलित, व्यावहारिक सोच तथा दृष्टिकोण में मौलिक बदलाव लाकर हर समस्या का समाधान कर सकते हैं। हमारी सोच हमारी कार्यक्षमता को प्रभावित करती है। हम जैसा सोचते हैं वैसा ही करते हैं। यदि हम नकारात्मक बातें सोचेंगे तो हमें दुनिया के अच्छे लोगों में भी बुराइयां नजर आने लगेंगी।

उन्होंने कहा कि जब भी आप निराश हों तब ऐसे लोगों से बातें करें जोकि सकारात्मक सोच रखते हों। ऐसे समय में कुछ मिनट मेडिटेशन का सहारा भी लिया जा सकता है। रोजाना मेडिटेशन करने से दिमाग सम्बन्धी बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है तथा सकारात्मक एनर्जी और शांति का अनुभव होता है। मेडिटेशन से बहुत सारे स्ट्रेस भी कम हो जाते हैं।

अंत में के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राजेन्द्र कुमार और डॉ. प्रणीता सिंह ने ब्रह्मा कुमारी मेडिकल विंग की बी.के. रूपा दीदी, बी.के. आजाद, बी.के. रोशनी दीदी का आभार मानते हुए उन्हें समय-समय पर इसी तरह के मोटीवेशनल विचारों को मेडिकल छात्र-छात्राओं के बीच साझा करने का आग्रह किया।
– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *