महिंद्रा एंड महिंद्रा ने कहा, हम BS-VI नॉर्म्स वाली गाड़ियां लॉन्च करने को तैयार

मुंबई। ऑटोमोबाइल सेक्टर की दिग्गज कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा ने कहा है कि वह अगले साल BS-VI नॉर्म्स का पालन करने वाली अपनी गाड़ियां लॉन्च करने के लिए तैयार है। कंपनी ने कहा कि वह पेट्रोल इंजन वाले बीएस6 मॉडल्स को इसी साल से लॉन्च करना शुरू कर देगी।
कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर पवन गोयनका ने बताया, ‘हम इस साल की दूसरी छमाही तक अपनी पहली गैसोलीन (पेट्रोल) बीएस6 गाड़ियां तैयार कर लेंगे।’
उन्होंने बताया, ‘हम गैसोलीन गाड़ियों को तैयार होने के साथ ही शायद इसे लॉन्च भी कर दें क्योंकि इसके लिए बीएस6 फ्यूल की जरूरत नहीं होती है। हालांकि हम डीजल गाड़ियों को तब तक लॉन्च नहीं कर सकते, जब तक कि फ्यूल पूरे भारत में न मौजूद हो। मैं इसे दिसंबर के अंत तक या जनवरी की शुरुआत तक पूरा होने की उम्मीद कर रहा हूं।’
भारत स्टेज VI (बीएस VI) एमिशन नॉर्म्स को 1 अप्रैल, 2020 से पूरे देश में लागू किया जाएगा। फिलहाल देश में BS-IV एमिशन नॉर्म्स का पालन करने वाली गाड़ियों की बिक्री हो रही है। महिंद्रा एंड महिंद्रा ने बीएस6 एमिशन नॉर्म्स के तहत गाड़ियां बनाने के लिए 1,000 करोड़ रुपये निवेश किया है।
700 लोगों की मेहनत से बनीं बीएस VI वाली गाड़ियां
गोयनका ने कहा कि अगले 2 से 3 महीने सप्लायर्स और प्लांट्स के लिए काफी चुनौतीपूर्ण रहने वाले हैं। उन्होंने कहा कि देश की ऑटो इंडस्ट्री में किसी भी सोर्सिंग ऑर्गनाइजेशन और प्रोडक्ट डेवलपमेंट के लिए पिछले साढ़े तीन साल का समय शायद सबसे ज्यादा चुनौतीपूर्ण था। पिछले 3.5 सालों में करीब 700 लोगों की मेहनत से बीएस VI नॉर्म्स वाली गाड़ियां बन पाई हैं।
गोयनका ने बताया, ‘हम तैयार हैं। हमें 1 अप्रैल 2020 से मार्केट में बीएस VI गाड़ियां उतारने में कोई तकनीकी खतरा नहीं दिखाई दे रहा। हमने इसके लिए काफी पहले से तैयारियां शुरू कर दी थी। प्रमुख सप्लायर्स को भी इस योजना में शामिल किया है।’ उन्होंने कहा कि हमें जितनी भी तकनीकी चुनौतियां पता थीं, उन सभी को दूर कर लिया गया है।
बीएस6 लागू करनें में किसी भी चीज से समझौता नहीं
गोयनका ने बताया, ‘इस बार हमारे पास दो तरह के अपग्रेडेशन थे। इससे हमें फ्यूल की क्षमता, गाड़ियों के प्रदर्शन, उसकी ड्राइवबिलिटी और एनएचवी को लेकर समझौता करने की आशंका थी। हालांकि, हमने यह सुनिश्चित किया कि बीएस VI को लागू करने में इनमें से किसी भी चीज के साथ समझौता नहीं किया जाएगा।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *