महाराज जी मुझे चपरासी की नौकरी दे दीजिए, क्‍योंक‍ि मेरी शादी नहीं हो रही

गोरखपुर में जनता दर्शन के दौरान उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ को एक अजीबो-गरीब फरियादी का सामना करना पड़ा। गुलरिहा के भटहट निवासी सूरज की फरियाद थी ही ऐसी कि सबका ध्‍यान उस ओर चला गया। फरियाद थी- ‘महराज जी, मुझे चपरासी की नौकरी दे दीजिए क्‍योंक‍ि मेरी शादी नहीं हो रही’।
प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदि‍त्‍यनाथ हिन्दूसेवा श्रम में सीएम ने लोगों की समस्याएं सुन रहे थे। काफी लोग अपनी समस्‍याएं लेकर आए थे। अभी लोगों को सुनना शुरू ही किया था क‍ि 35 वर्षीय सूरज ने सीएम से फरियादा लगाई। सीएम योगी सूरज को पहचानते थे। सूरज ने कहा, ‘चपरासी की नौकरी ही दिला दीजिए, क्योंकि मेरी शादी नहीं हो रही।’ ये सुनते ही सीएम योगी ने कहा, ‘तुम तो चुनाव लड़ने के लिए टिकट मांग रहे थे? पहले तय कर लो कि तुम्हें क्या करना है?’ इस पर सूरज ने जवाब दिया,‘महराज जी! नौकरी न होने के कारण शादी नहीं हो पा रही है। इससे मैं काफी परेशान हूं।’
सामूहिक विवाह कार्यक्रम का मिले लाभ
सूरज इसे पहले विधानसभा चुनाव के लिए टिकट की मांग को लेकर भी सीएम से मुलाकात कर चुके हैं। सूरज ने बताया क‍ि श्रम विभाग और समाज कल्याण विभाग सामूहिक विवाह के लिए आयोजन कर रहा है, इन आयोजनों का लाभ मुझे भी मिलना चाहिए।
मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने इस दौरान 50 से ज्‍यादा लोगों की श‍िकायतें सुनीं और निवारण का आश्‍वासन दिया। जनता दर्शन कार्यक्रम के दौरान गोरखपुर जोन के कमिश्नर रवि कुमार एनजी, डीएम विजय किरण आनंद, जीडीए वीसी प्रेम रंजन सिंह, एसएसपी विपिन ताडा, आईजी जे रविंद्र गौड़, एडीजी अखिल कुमार, अजय सिंह समेत अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।
वहीं सुनवाई के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को आश्वासन दिया कि किसी का भी इलाज बगैर पैसे के नहीं रुकेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि हॉस्पिटल से बिल लेकर जिला प्रशासन को दें और तुरंत आपकी समस्या का समाधान हो जाएगा. पैसे के अभाव में किसी का इलाज नहीं रुकेगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *