मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी में गुटबाजी, Kamal Nath और ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया के समर्थक भिड़े

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी में गुटबाजी में Kamal Nath और ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया के समर्थक सोशल मीडिया पर आपस में भिड़ गए। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विधानसभा चुनाव से पहले मध्य प्रदेश ईकाई का भले ही पुनर्गठन कर दिया हो, इसका कुछ खास फायदा होता नहीं दिख रहा।

राहुल गांधी चाहते हैं कि सभी क्षेत्रीय क्षत्रप एकजुट होकर चुनाव का सामना करें, लेकिन उनकी यह कोशिश कारगर होती नहीं दिख रही. मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी में गुटबाजी खत्म होने का नाम नहीं ले रही।

नवीनतम घटनाक्रम में एमपी कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के समर्थक और चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक भावी मुख्यमंत्री को लेकर भिड़ गए हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्व‍िजय सिंह इन दोनों धड़ों के बीच खुद को फंसा महसूस कर रहे हैं। इस महीने की शुरुआत में ट्विटर पर ‘चीफ मिनिस्टर सिंधिया’ ट्रेंड करता दिखा. सिंधिया के तमाम प्रशंसक ऐसे कार्ड और पोस्ट ट्वीट करते देखे गए जिनमें कहा गया था कि मध्य प्रदेश के सीएम के लिए सिंधिया ही एकमात्र उपयुक्त व्यक्ति हैं।

असल में इसके एक दिन पहले ही कमलनाथ के समर्थकों ने ‘कमलनाथ नेक्स्ट एमपी सीएम’ हैशटैग को ट्रेंड कराया था।

कमलनाथ के समर्थन में ट्वीट किसी ‘मध्य प्रदेश कांग्रेस युवा मित्र मंडल’ द्वारा किया जा रहा था, तो सिंधिया के समर्थन में किसी ‘श्रीमंत सिंधिया फैन क्लब’ द्वारा।

कमलनाथ के समर्थन में ट्वीट की शुरुआत 6 जुलाई को हुई थी. ये ट्वीट इस प्रकार थे- ‘महाराज और राजा का है साथ, मुख्यमंत्री बनें कमलनाथ।’

‘Kamal Nath ही कमल की काट है, मध्य प्रदेश का हर युवा आपके साथ है।’

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »