माधुरी के दीवाने चित्रकार एमएफ हुसैन की पुण्‍यतिथि आज

मशहूर पेंटर मकबूल फिदा हुसैन को भारत का ‘पिकासो’ कहा जाता है। उनका निधन 9 जून 2011 को लंदन में हुआ था। मनमौजी स्वभाव के हुसैन का जन्म 17 सितंबर 1915 को मुंबई में हुआ था। अपने बनाए चित्रों को लेकर हुसैन काफी विवादों में घिरे रहे। वहीं फिल्मों से भी उनका खास जुड़ाव रहा है।
आइए जानते हैं मकबूल फिदा हुसैन से जुड़ी कुछ खास बातें…
एमएफ हुसैन अपनी मेहनत के दम पर एक दिन उस मुकाम पर पहुंचे जहां पहुंचना किसी भी पेंटर का ख्वाब होता है। बेशक वो कितने ही बड़े पेंटर बन गए लेकिन सिनेमा से उनका लगाव हमेशा रहा। यही नहीं बॉलीवुड की कई एक्ट्रेस के वो बहुत बड़े प्रशंसक रहे हैं।
हुसैन जिनके दीवाने थे उनमें पहना नाम है माधुरी दीक्षित। जिनकी ‘हम आपके हैं कौन (1994)’ हुसैन ने 67 बार देखी थी और उनके ऊपर पेंटिंग की पूरी सीरीज भी बना डाली थी। माधुरी के प्रति हुसैन की दीवानगगी इससे समझी जा सकती है कि उन्होंने माधुरी को लेकर 2000 में ‘गजगामिनी’ फिल्म बनाई थी। उस वक्त हुसैन की उम्र करीब 85 साल थी। बता दें कि ‘गजगामिनी’ का बजट करीब ढाई करोड़ था जबकि फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर केवल 26 लाख की कमाई की थी।
हुसैन की दीवानगी का आलम सात साल बाद उस समय भी कायम रहा जब माधुरी दीक्षित ने ‘आजा नचले’ के साथ बॉलीवुड में दोबारा एंट्री मारी। हुसैन उन दिनों दुबई में थे और उन्होंने दोपहर के शो के लिए दुबई के लैम्सी सिनेमा को पूरा अपने लिए बुक करा लिया था।
इसी तरह हुसैन को तब्बू भी काफी पसंद थीं और उन्होंने उनके लिए ‘मीनाक्षी: अ टेल ऑफ थ्री सिटीज (2004)’ बनाई थी। कामयाबी यहां भी नहीं मिली लेकिन जिस तरह का सिनेमा उन्होंने बनाया और रंग दिए, वे हमेशा याद रखे जाएंगे।
2006 में हुसैन एक और हीरोइन को देखकर फिदा हो गए। ये थी ‘विवाह’ फिल्म की अमृता राव। हुसैन ने फैसला किया कि वे उनकी पेंटिंग बनाएंगे। यही नहीं, अमृता के जन्मदिन पर हुसैन ने उन्हें तीन पेंटिंग गिफ्ट की थीं, जिनकी कीमत लगभग एक करोड़ रुपये बताई जाती है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »