Lyricist मनोज मुंतशिर को आईफा अवार्ड मिलने पर अमेठी में मना जश्न

बैंकाक। Lyricist मनोज मुंतशिर को आईफा अवार्ड मिलने पर अमेठी में जश्न मनाया गया, उनके आवास पर मिठाइयों से मुंह मीठा कराया गया। अमेठी जिले के गौरीगंज निवासी बालीवुड के चर्चित Lyricist मनोज मुंतशिर को तीन साल में दूसरी बार प्रतिष्ठित आईफा अवार्ड से नवाजा गया। मनोज को रविवार की रात यह अवार्ड बैंकॉक में दिया गया।

 

सोमवार को नगरवा वार्ड स्थित उनके आवास पर बधाई देने वालों की भीड़ रही। लोगों ने मनोज के माता-पिता को माला पहनाकर और मिठाई खिलाकर अपनी खुशी का इजहार किया।

‘मेरे रश्के कमर’ के लिए मिला आईफा
मनोज मुंतशिर को बादशाहो फिल्म के चर्चित गीत ‘मेरे रश्के कमर’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत लेखन की श्रेणी में आईफा पुरस्कार दिया गया। बैंकॉक के लिए उनके साथ उनके दो साथी दीपक सिंह और रमेश तिवारी भी गए हैं। वहां अवार्ड मिलने के साथ ही मोबाइल पर बधाइयों का दौर शुरू हो गया। सोमवार को नगरवा वार्ड सभासद आशीष तिवारी, रेलवे स्टेशन वार्ड सभासद रमेश यादव, रमेश मिश्र, सोनू सिंह सहित बड़ी संख्या में लोगों ने मनोज के घर पहुंचकर उनके पिता शिव प्रताप शुक्ल व मां प्रेमा देवी को बधाई दी।

मनोज अमेठी का गौरव
पुत्र की सफलता से अभिभूत मनोज के पिता ने कहा कि मनोज अमेठी का गौरव है। उसने हमें वह सारी खुशी दी है जो एक सबसे अच्छा पुत्र दे सकता है। मनोज की मां ने कहा कि मनोज बचपन में कहा करते थे कि एक दिन मैं आपके नाम से नहीं आप लोग मेरे नाम से जाने जाएंगे, तब यह बात मजाक लगती थी। आज यह बात पूरी तरह से सही हो गई है।

जीत अमेठी-गौरीगंज के नाम
मनोज मुंतशिर ने  कहा कि यह जीत छोटे शहरों के बड़े सपनों की जीत है। मेरी यह जीत अमेठी व गौरीगंज को समर्पित है जहां मैंने पहला अक्षर सीखा और जहां मेरे पहले कदम बढ़े।

सांसद व पूर्व मंत्री ने भी दी बधाई
मनोज को आईफा अवार्ड मिलने पर राज्यसभा सदस्य डा.संजय सिंह और पूर्व प्राविधिक शिक्षा राज्य मंत्री अमीता सिंह ने भी बधाई दी है। उन्होंने कहा कि Lyricist मनोज को दूसरी बार आईफा अवार्ड मिलना सचमुच गौरव का विषय है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »