Colleagues के साथ लंच बनाता है अच्‍छी बॉन्डिंग

एक रिसर्च में सामने आया है कि अगर आप Colleagues के साथ लंच करते हैं तो आपकी बॉन्डिंग अच्छी होती है साथ ही प्रदर्शन भी बेहतर होता है।
वर्किंग लोगों के लिए ऑफिस उनकी सेकंड फैमिली की तरह होता है। हम दिन के कई घंटे उनके साथ बिताते हैं। इन्हीं सब के बीच Colleagues हमारे सुख-दुख के साथी भी बन जाते हैं। ऐसे में एक रीसर्च में यह बात सामने आई है कि को-वर्कर्स के साथ खाना खाने से नजदीकी तो बढ़ती ही है साथ में प्राेडक्टिविटी पर भी पॉजिटिव असर होता है।
कॉर्नेल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर केविन ने यह स्टडी फायरहाउस पर की थी जिसमें फायरमेन साथ में बनाते और खाते थे। उन्होंने निष्कर्ष निकाला कि खाना और ड्रिंक शेयर करने से टीममेट्स के बीच अलग तरह का जुड़ाव हो जाता है।
क्यों खाएं साथ?
इससे आपकी प्रोडक्टिविटी बढ़ती है। केविन की स्टडी में यह बात सामने आई कि जो फायर फाइटर्स साथ में खाते थे, वे साथ में बेहतर काम करते थे।
नेटवर्किंग के लिए
किसी दूसरे डिपार्टमेंट वाले के साथ खाने या उनके साथ चाय या कॉफी पीना घुलने-मिलने का बढ़िया तरीका है।
आपको खुश रखता है
ऑफिस में साथियों के साथ लंच करने से रोजाना के काम की थकान कुछ कम होती है और मूड फ्रेश होता है।
इन बातों का रखें ध्यान
अगर साथियों के साथ खा रहे हैं तो छोटे बाइट्स लें इससे बीच में बोलना पड़ा तो दिक्कत नहीं होगी।
-मुंह में जो खाना है उसे निगलकर ही कुछ पिएं।
-बीच-बीच में नैपकिन से उंगलियां और मुंह पोंछते रहें।
-सीधे बैठें और अपनी कोहनियां और हाथ टेबल से दूर रखें।
-सबके साथ खा रहे हैं तो अपने खाने की स्पीड बाकी लोगों के खाने की स्पीड में ही रखें।
-ध्यान रखें कि दूसरों के सामने डकार न मारें, अगर ऐसा हो जाए तो तुरंत माफी मांगें।
-जब तक सबको खाना सर्व न कर दिया जाए, आप खाना न शुरू करें।
-अगर वेजिटेरियन कॉलीग्स के साथ नॉन-वेज खाएं तो पहले उनसे परमिशन ले लें।
-मुंह खोलकर खाना न खाएं, न ही दांत में फंसा हुआ खाना सबके सामने निकालें।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *