लखनऊ: राज्यभवन के प्रांगण में मनाया गया चौथा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

लखनऊ के राज्यभवन प्रांगण में आज उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाइक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने योग कर चौथे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
इस अवसर पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ‘करो योग, रहो निरोग’ यानि एक सामान्य जिज्ञासु के लिए यह अत्यंत उपयुक्त है, यद्यपि योग एक व्यापक शब्दावली है। भारत की योगिक परंपरा ने इस बात को कहा है ‘न तस्य रोगों न जरा न मृत्यु: प्राप्तस्य योगाग्निमयं शरीरं’।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज से चार वर्ष पूर्व भारत की हजारों वर्षों की ऋषि परंपरा के इस प्रसाद को देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के कारण अंतर्राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त हुई है। आज दुनिया के 192 देश योग के साथ भारत की इस प्राचीन परंपरा के साथ समरस होते हुए दिखाई दे रहा है।
योगी ने कहा कि योग को अगर आप जीवन का हिस्सा बनाएंगे तो बहुत सारी बीमारियों से न केवल मुक्ति मिलेगी अपितु बीमारियों के उपचार में खर्च से भी आपको मुक्ति मिलेगी क्‍योंकि जीवन में संतुलन ही योग है। भारत को स्वस्थ और निरोग बनाने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आह्वान के साथ हम सब को जुड़ना चाहिए। नियमित रूप से योग करना चाहिए। इस के साथ मैं आप सबको योग दिवस की हार्दिक बधाई देता हूं, अपनी शुभकामनाएं देता हूं। आप सब स्वस्थ रहें, निरोग रहें। एक निरोगी काया आप सब को प्राप्त हो।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »