लखनऊ: पहली बार मंदिर में किया जा रहा है इफ्तार पार्टी का आयोजन

लखनऊ। धर्म, जाति और संप्रदाय की दीवारों को तोड़ते हुए लखनऊ के सबसे पुराने शिव मंदिरों में से एक मनकामेश्वर मंदिर में रोजेदारों के लिए पहली बार इफ्तार पार्टी का आयोजन किया जा रहा है। यह कार्यक्रम रविवार शाम को होगा। इफ्तार का आयोजन गोमती नदी के किनारे स्थित मनकामेश्वर मंदिर के उपवन घाट पर होगा जहां मंदिर की पहली महिला पुजारी शाम को गोमती आरती करती हैं।
इसके लिए मंदिर के तीन बावर्ची और उनके हेल्पर रविवार सुबह से ही करीब 500 से ज्यादा लोगों के लिए इफ्तार की तैयारी में जुट जाएंगे। मंदिर की पहली महिला पुजारी महंत देव्यागिरि ने बताया, ‘रोजेदारों को कॉफी, ब्रेड कटलेट, केला, प्याज और आलू के कटलेट, मिठाई, चावल की खट्टी-तीखी डिश, फल और दूसरे व्यंजन परोसे जाएंगे। हमने शिया और सुन्नी समुदाय के सभी वरिष्ठ मौलवियों को अपनी तरफ से आमंत्रित किया है। हमें उम्मीद है कि यह इफ्तार ऐतिहासिक होगा और शहर की गंगा-जमुना तहजीब को फिर से बहाल करेगा।’
हाल ही में 4 जून को अयोध्या में विवादित स्थल के बगल में स्थित 500 साल पुराने सरयू कुंज मंदिर में भी मुस्लिमों के लिए इफ्तार का आयोजन हुआ था। यह आयोजन अयोध्या के हिंदू-मुस्लिम भाईचारे और शांति के प्रतीक के रूप में किया गया था। शहर में पहली बार किसी मंदिर में इफ्तार पार्टी के आयोजन पर मनकामेश्वर की महंत देव्यागिरि ने मंदिर के इतिहास से रूबरू कराते हुए कहा, ‘ऐसा कहा जाता है कि मंदिर प्रागैतिहासिक काल में अस्तित्व में आया था और लक्ष्मण जी मंदिर में पूजा-पाठ करते थे। ऐसी मान्यता है कि यहां आने वाले हर भक्त की मुराद पूरी होती है।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »