गुरमीत राम रहीम की ‘हनी’ के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी

हरियाणा के पंचकुला ज़िले के सेक्टर पांच पुलिस स्टेशन ने हनीप्रीत इंसान के लुक आउट नोटिस जारी किया है.
पंचकुला पुलिस के लुकआउट नोटिस जारी किए जाने के बाद हनीप्रीत अपने पासपोर्ट के साथ देश की सीमा से बाहर नहीं जा पाएगी और हरियाणा पुलिस उसे तलाश भी कर रही है.
हनीप्रीत इंसान वही लड़की है जिसे सीबीआई कोर्ट में गुरमीत राम रहीम को बलात्कार का दोषी ठहराए जाने के बाद राम रहीम के साथ देखा गया था.
हनीप्रीत इंसान को गुरमीत राम रहीम के साथ उस सरकारी हेलिकॉप्टर में भी देखा गया था जिससे राम रहीम को रोहतक जेल ले जाया गया था.
हालांकि इसके बाद हनीप्रीत एक तरह से ग़ायब हो गई है जबकि उसे राम रहीम के उत्तराधिकार के दावेदारों में भी गिना जा रहा है.
कहा जाता है कि गुरमीत राम रहीम ने हनीप्रीत को अपनी तीसरी बेटी के तौर पर गोद लिया था.
इंटरनेट से लेकर सोशल मीडिया पर राम रहीम सिंह की कथित बेटी के प्रभुत्व को लेकर चर्चा जारी है.
जानिए, बाबा राम रहीम की इन कथित बेटी के बारे में 5 अहम बातें
गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर मौजूद फाइल के मुताबिक साल 2017 में हनीप्रीत समेत बाबा के तमाम भक्तों ने गृह मंत्रालय से बाबा गुरमीत राम रहीम सिंह को पद्म अवार्ड से सम्मानित करने की सिफ़ारिश की थी. हालांकि सरकार ने इस पेशकश को ठुकरा दिया.
हनीप्रीत इंसान अपनी वेबसाइट पर राम रहीम के ही अंदाज में डेरा की शरण में आने वालों की भरसक मदद करने का दावा करती है.
वेबसाइट बताती है कि हनीप्रीत इंसान लोगों की मदद करने के लिए मेट्रो शहरों से लेकर जंगलों तक में जाने से नहीं झिझकती है.
हनीप्रीत इंसान की आधिकारिक वेबसाइट कहती है, “हनीप्रीत ने किसी तरह की पेशेवर ट्रेनिंग नहीं ली है लेकिन वह पेशेवर अभिनेताओं के जैसी एक्टिंग करने में सक्षम है और ये सब गुरमीत राम रहीम सिंह की वजह से है.”
हनीप्रीत इंसान के डेरा सच्चा सौदा में कद को इस बात से समझा जा सकता है कि वह युवाओं को संगठन की ओर लाने का काम करती है. फ़ेसबुक पर लगभग पांच लाख लोग उन्हें लाइक और फॉलो करते हैं.
हनीप्रीत इंसान के पति विश्वास गुप्ता ने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर उनकी पत्नी को दूर रखने का आरोप लगाया था. इसके बाद हनीप्रीत सिंह ने विश्वास गुप्ता के ख़िलाफ़ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज किया था. इसके बाद से हनीप्रीत डेरा मुख्यालय में ही रह रही थी.
-BBC