बिहार में लॉकडाउन: नीतीश सरकार ने लिए बड़े फैसले, लोगों को राहत

पटना। बिहार में लॉकडाउन की स्थिति के दौरान लोगों को आर्थिक परेशानी न हो, इसके लिए सीएम नीतीश कुमार ने कुछ फैसले किए हैं।
राशन कार्ड वाले परिवारों को एक महीने तक मुफ्त राशन दिया जाएगा। जिन इलाकों में लॉकडाउन है, वहां राशन कार्ड धारक परिवारों को 1,000 रुपये मिलेंगे। पेंशनर्स को 3 महीने की पेंशन एडवांस में दी जाएगी। इसके अलावा कक्षा 1 से 12 तक के स्‍टूडेंट्स को 31 मार्च तक स्‍कॉलरशिप मिलेगी।
नीतीश ने सोमवार को यह फैसले किए। नीतीश के अनुसार, राज्‍य के सभी डॉक्‍टर्स और मेडिकल स्‍टाफ को उनके एक महीने के बेसिक पे जितनी रकम एनकरेजमेंट के रूप में दी जाएगी। ये सभी कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में लगातार मोर्चा संभाले हुए हैं।
नीतीश कुमार ने लिया बड़ा फैसला
कोरोना वायरस के चेन को तोड़ने के लिए 22 मार्च को नीतीश कुमार ने पूरे बिहार को डाउन करने की घोषणा की थी। जाहिर है लॉक डाउन से सबसे ज्यादा असर दिहाड़ी मजदूर और रोज कमाने खाने वाले गरीबों पर ही पड़ता। इसे देखते हुए CM नीतीश कुमार ने आज अपने आवास पर अधिकारियों के साथ बैठक की और महत्वपूर्ण फैसला लिया।
सभी राशन कार्डधारियों को एक माह का राशन मुफ्त
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लॉक डाउन के मद्देनजर गरीबों को सहायता पहुचाने का निर्णय लिया है। नीतीश कुमार ने सभी राशन कार्डधारी परिवारों को एक महीने का राशन मुफ्त में देने की घोषणा की है। साथ ही क्लास 1 से 12 के सभी छात्र छात्राओं की छात्रवृत्ति 30 मार्च तक DBT के माध्यम से खाते में डाल दी जाएगी।
3 महीने का पेंशन एडवांस
इसके अलावे सभी प्रकार के पेंशन जैसे वृद्धा, दिव्यांग, विधवा पेंशन पाने वालों को अगले 3 महीने की पेंशन 31 मार्च से पहले DBT के माध्यम से उनके खाते में भेज दी जाएगी। अगले 3 माह के पेंशन की राशि उनके खाते में DBT के माध्यम से भेजी जाएगी।
डॉक्टर और चिकित्साकर्मियों को प्रोत्साहन
कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए अपनी सेवा दे रहे डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों का भी नीतीश कुमार ने ध्यान रखा है। नीतीश सरकार ने सेवा कर रहे डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों को बोनस देने का फैसला किया है। राज्य के सभी चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों को एक महीने के वेतन के बराबर बोनस दिया जाएगा।
राज्‍य में कोरोना से अब तक एक की मौत
बिहार में अब तक COVID-19 से एक व्‍यक्ति की मौत हुई है। यह मरीज पटना निवासी एक महिला है और इसके परिवार में इटली यात्रा की हिस्ट्री मिली है। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण बिहार सरकार ने राज्य के शहरी इलाकों में ‘लॉकडाउन’ किया है।
31 मार्च के बाद होगा आगे का फैसला
बिहार के शहरी इलाकों में 31 मार्च तक लॉकडाउन है। आवश्यक सामग्रियों की दुकानों, बैंक, पोस्ट ऑफिस सहित अन्य अनिवार्य सेवाओं को इस बंद से मुक्त रखा गया है। इस आदेश के तहत सभी सभी निजी प्रतिष्ठानों, निजी कार्यालयों एवं सार्वजनिक परिवहन पूरी तरह बंद रहेगा। फिहलाल यह आदेश 31 मार्च तक लागू रहेगा, उसके बाद आगे का फैसला लिया जाएगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »