दर्द रहित पीठ के लिए Lifestyle में बदलाव जरूरी

आधुनिक Lifestyle ने कई बीमारियों को जन्म दिया है, जहां पीठ दर्द एक आम समस्या के रूप में सामने आया है जिससे लगभग हर दूसरा व्यक्ति परेशान नजर आता है। रीढ़ की यह समस्या गतिहीन Lifestyle, मोटापा और ऑफिस में लंबे समय तक बैठकर काम करने के कारण होती है।

नई दिल्ली में साकेत स्थित मैक्स स्मार्ट सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के ऑर्थोपेडिक निदेशक और स्पाइन सर्जरी हेड, डॉक्टर एच.एन बजाज ने बताया कि, “रीढ़ की हड्डी की समस्याएं लगातार बढ़ रही हैं। रीढ़ की हड्डी और पीठ दर्द का सीधा संबंध है। ऑफिस में गलत तरीके से बैठने से, एक ही पोस्चर में लगातार काम करने से और गर्दन को कई घंटों तक एक ही अवस्था में रखने से व्यक्ति की रीढ़ गंभीर रूप से प्रभावित होती है जिससे पीठ दर्द की शिकायत होती है। इसके अलावा ज्यादा देर ड्राइव करने, मोटापा, एक्सरसाइज में कमी, गलत खान-पान, नींद न पूरी होने आदि से रीढ़ में जकड़न होती है, जो दर्द का कारण

डॉ. एच.एन बजाज, ऑर्थोपेडिक निदेशक और स्पाइन सर्जरी हेड
डॉ. एच.एन बजाज, ऑर्थोपेडिक निदेशक और स्पाइन सर्जरी हेड

बनता है।”

एक हालिया अध्ध्यन के अनुसार, 30-40 आयु वर्ग में हर पांचवा भारतीय किसी न किसी प्रकार की रीढ़ की समस्या से पीड़ित है। पिछले एक दशक में युवा पीढ़ के बीच पीठ संबंधी समस्याओं में 60% वृद्धि देखी गई है।

डॉक्टर एच.एन बजाज ने आगे बताया कि, “एक सक्रिय जीवनशैली के साथ संतुलित आहार और बैठने, चलने और झुकने के दौरान सतर्कता के साथ रीढ़ की अधिकांश समस्याओं से बचा जा सकता है। एक मुद्रा में बहुत देर तक खड़े या बैठे न रहें। प्रेस करने, बर्तन धोने व खाना बनाने आदि जैसे कामों के लिए पीठ और गर्दन झुकानी पड़ती है इसलिए अपने शरीर के पॉस्चर पर ध्यान दें। एक्सरसाइज़ की मदद से वजन को नियंत्रण में रखें। बैठने वाली नौकरी करते हैं तो पीठ को कुर्सी से सटाकर रखें और बीच-बीच में उठकर शरीर को स्ट्रेच करें। स्वस्थ पीठ के लिए अधिक से अधिक पानी पिएं और अपने आहार में कैल्शियम की मात्रा को बढ़ाएं। आहर में हरी सब्जियों और ताजे फलों को शामिल करने के साथ डेयरी खाद्य पदार्थ भी शामिल करें। हर दिन कुछ वक्त धूप में बिताने से हड्डियां मजबूत होती हैं, जिससे रीढ़ लचीली और स्वस्थ बनती है। पीठ से जुड़ी ऐसी कई एक्सरसाइज हैं, जो रीढ़ की समस्याओं से छुटकारा पाने में मदद करती हैं। यदि आप अभी-अभी एक्सरसाइज शुरु कर रहे हैं तो पहले हल्की व सरल एक्सरसाइज करें और फिर धीर-धीरे एक्सरसाइज को बढ़ाएं। जीवनशैली से जुड़े ये बदलाव पीठ की समस्याओं से छुटकारा पाने में आपकी मदद करेंगे। ”
-Legens News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »