जायरा वसीम के एक्टिंग छोड़ने पर राजनीतिक प्रतिक्रियाएं भी आईं

मुंबई। दंगल और सीक्रेट सुपरस्टार फिल्म की अभिनेत्री जायरा वसीम के एक्टिंग छोड़ने के फैसले पर राजनीतिक प्रतिक्रियाएं भी आने लगी हैं। शिवसेना और बीजेपी ने धर्म को आधार बनाकर ऐक्टिंग करियर छोड़ने के फैसले को दबाव में लिया फैसला बताया। जायरा ने रविवार को इंस्टाग्राम पर 6 पेज के लंबे नोट में फिल्म लाइन छोड़ने के फैसले की जानकारी दी थी। जायरा का कहना है कि इस चकाचौंध और सफलता की कहानी उन्हें लगातार ईश्वर और ईमान से दूर कर रहा था।
ट्विटर पर प्रियंका चतुर्वेदी ने की जायरा की आलोचना
शिवसेना ने जायरा के धर्म के नाम पर अभिनय की दुनिया को छोड़ने के फैसले की आलोचना की। कुछ महीने पहले कांग्रेस छोड़कर शिवसेना में शामिल हुईं प्रियंका चतुर्वेदी ने जायरा के फैसले पर ट्विटर पर लंबी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने ट्वीट किया, ‘आप अपनी आस्था का पालन कर सकते हैं अगर यह आपको आकर्षित कर रहा है, लेकिन कृपया अपने करियर का फैसला धर्म को आधार बनाकर न करें। यह आपके धर्म को असहिष्णु बताता है, जबकि हकीकत में ऐसा नहीं है। यह उनके धर्म (जायरा वसीम) के लिए भी एक बड़ा प्रतिगामी कदम है और इस गलत धारणा को और पुष्ट करता है कि इस्लाम में सहिष्णुता की जगह नहीं है।’
बीजेपी ने सवाल उठाए, उमर अब्दुल्ला ने किया समर्थन
बीजेपी ने भी जायरा वसीम के फिल्म लाइन छोड़ने के फैसले को दबाव में लिया फैसला बताया। बीजेपी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने एक मीडिया चैनल से कहा, ‘धर्म के आधार पर एक्टिंग छोड़ने का फैसला दबाव में लिया हुआ फैसला लग रहा है। वह लगातार कट्टरपंथी समूहों के निशाने पर भी थीं।’ दूसरी तरफ नेशनल कॉन्फ्रेंस के लीडर उमर अब्दुल्ला ने जायरा के फैसले का सम्मान करने की सीख सबको दी। बता दें कि कश्मीरी मूल की जायरा के फिल्मों में काम करने के कारण उन पर कट्टरपंथियों ने कई बार जुबानी हमले भी किए थे।
धार्मिक मार्ग से भटकने को आधार बनाकर करियर छोड़ने के जायरा वसीम के फैसले पर सोशल मीडिया में लगातार प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है। कश्मीर से ही ताल्लुक रखने वाले एक्टर इकबाल खान ने उनके फैसले पर ट्वीट किया, ‘जायरा वसीम क्विट करना चाहती हैं, इसमें क्या बड़ी बात है… उनकी मर्जी… हो सकता है कि जो वह कर रही हों वह गलत हो और उसे छोड़ना चाहती हों… मैं भी एक अभिनेता हूं, मैं कुछ गलत नहीं कर रहा हूं और मुझे इस्लाम के पालन में भी कोई परेशानी नहीं है। अलहमदुल्लिाह।’
रवीना टंडन ने भी धार्मिक आधार बनाने पर उठाए सवाल
अभिनेत्री और सोशल मीडिया पर खुलकर अपनी राय रखने वाली रवीना टंडन ने जायरा के फैसले पर सवाल उठाए। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘कोई फर्क नहीं पड़ता है कि 2 फिल्म पुराने लोग इंडस्ट्री से जो कुछ भी मिला उसके लिए कृतज्ञ नहीं हैं। काश ऐसे लोग गरिमापूर्ण तरीके से बाहर निकलते और अपने दकियानूसी विचार खुद तक ही सीमित रखते।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »