बड़ी सफलता: कश्‍मीर में दो साथियों सहित मारा गया लश्कर का टॉप कमांडर मुदसिर

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के सोपोर में अपने दो साथियों के साथ मारा गया लश्कर का टॉप कमांडर मुदसिर पंडित सुरक्षाबलों के रडार पर काफी समय से चल रहा था। उसका मारा जाना बड़ी सफलता है। कश्मीर में खूनी खेल करने के कई मामलों में शामिल रह चुके मुदसिर पर 10 लाख रुपये का ईनाम रखा गया था। वह मोस्ट वांटेड आतंकियों की गिनती में था। उसके मारे जाने से लश्कर को बड़ा झटका लगा है क्योंकि वह बड़ा नेटवर्क चला रहा था, जो सीधे तौर पर सुरक्षाबलों को निशाना बनाने का काम करता था।
Jammu Kashmir police से प्राप्‍त जानकारी के अनुसार मुदसिर ने मार्च महीने में सोपोर में काउंसलरों पर हमला किया था, जिसमें दो काउंसलर मारे गए थे। इसी साल वह दो काउंलसरों, तीन पुलिस के जवानों तथा दो नागरिकों की हत्या कर चुका है। पिछले साल भी कई बड़ी घटनाओं में उसका नाम आया था। लंबे समय से सुरक्षाबलों की तरफ से उसकी तलाश की जा रही थी। वह हर समय अपने साथ पाकिस्तानी आतंकी असरार उर्फ अब्दुल्ला को रखता था। वह भी इसी ऑपरेशन में मारा गया है।
पाकिस्तानी आतंकी साल 2018 से कश्मीर में एक्टिव हैं। असरार को मुदसिर का पीएसओ कहा जाता था जो हमेशा उसके साथ रहता था। बताया गया कि पहले भी कई बाद मुदसिर को घेरा जा चुका है लेकिन वह हर बार भाग जाता था। इस बार उसे मार दिया गया था। कश्मीर में मोस्ट वांटेड आतंकियों की गिनती में आने वाला मुदसिर विशेषतौर पर सुरक्षाबलों को निशाना बनाता था। वह कश्मीर में खलल डालने के काम में लगा रहता था।
साउथ कश्मीर में सुरक्षाबलों पर हमलों से लेकर पूरे कश्मीर में आतंकियों की भर्ती करना तथा आईईडी हमलों का प्लान बनाता था। वह सीधे पाकिस्तान में बैठे कमांडरों से हुकम लेकर आगे कश्मीर में दहशत फैलाने का काम करता था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *