गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ भारत में बाघों पर सबसे बड़ा सर्वे

नई द‍िल्ली। भारत में 2018 में बाघों पर किया गया सर्वे गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज हो गया है। द ऑल इंडिया टाइगर एस्टीमेशन (The All India Tiger Estimation) की ओर से बाघों पर किया गया यह दुनिया का सबसे बड़ा सर्वे साबित हुआ है। यह 1 लाख 21 हजार 337 वर्ग किमी में किया गया। इसमें 26 हजार 760 स्थानों की अलग-अलग लोकेशन पर कैमरे लगाए गए। इनसे वन्यजीवों के 3.5 करोड़ से ज्यादा फोटो लिए गए। इनमें से 76 हजार 651 फोटो बाघ के और 51 हजार 777 फोटो तेंदुए के हैं।

सर्वे 2018 का, रिकॉर्ड की घोषणा अब हुई

यह सर्वे 2018 का है। इसे पिछले साल जारी किया गया था, जबकि वर्ल्ड रिकॉर्ड की घोषणा अब की गई है। इस सर्वे के मुताबिक देश में शावकों को छोड़कर बाघों की संख्या 2461 और कुल संख्या 2967 है। 2006 में यह संख्या 1411 थी। तब भारत ने इसे 2022 तक दोगुना करने का लक्ष्य तय किया था। भारत में सबसे ज्यादा 1492 बाघ तीन राज्यों मध्य प्रदेश, कर्नाटक और उत्तराखंड में हैं।

जावडेकर ने कहा- यह संकल्प से सिद्धि का सबसे अच्छा उदाहरण

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शनिवार को ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वन्यजीव सर्वेक्षण के लिए वास्तव में यह एक महान क्षण और आत्मनिर्भर भारत का सबसे अच्छा उदाहरण है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई में भारत ने लक्ष्य से चार साल पहले ही बाघों की संख्या दोगुना करने का संकल्प पूरा किया है। जावडेकर ने मीडिया से कहा कि दुनिया बाघों की कुल जनसंख्या का 70% भारत में है।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *