कुंभ 2019: 14 जनवरी से चार मार्च तक, होंगे 6 मुख्‍य स्‍नान

इलाहाबाद। संगम तट पर कुंभ 2019 का आयोजन 14 जनवरी से चार मार्च तक होगा। इस अवधि में 14 जनवरी को मकर संक्रांति, 21 फरवरी को पौष पूर्णिमा, चार फरवरी को मौनी अमावस्या, 10 फरवरी को वसंत पंचमी, 19 फरवरी को माघी पूर्णिमा व चार मार्च को महाशिवरात्रि मुख्य स्नान पर्व होंगे। इसी अवधि में तीन शाही स्नान मकर संक्रांति, मौनी अमावस्या व वसंत पंचमी पर होंगे। महाशिवरात्रि स्नान के साथ ही कुंभ का समापन होगा।
संगम तट पर प्रयागराज मेला प्राधिकरण बोर्ड की दूसरी बैठक में कई अहम प्रस्ताव पारित किए गए। इसमें कुंभ मेला क्षेत्र 2500 हेक्टेयर में बसाने का प्रस्ताव पारित हुआ, जो कि 20 सेक्टरों में विभाजित होगा। मेले में 12 करोड़ तीर्थ यात्रियों के आने का अनुमान लगाया गया है। श्रद्धालुओं के लिए उच्च क्वालिटी के टेंट, स्वच्छता, पेयजल, जल निकासी के इंतजाम, बिजली की बेहतर आपूर्ति, ट्रैफिक कंट्रोल, खाद्य एवं रसद आदि योजनाओं के संबंध में हो रहे कार्य पर भी वृहद चर्चा की गई।
मेला क्षेत्र में 38 हजार एलईडी लगाए जाने का प्रस्ताव पारित हुआ। इलाहाबाद को एयर कनेक्टीविटी से जोडऩे की योजना पर तेजी से कार्य कराने पर जोर दिया गया। अध्यक्षता करते हुए मंडलायुक्त डॉ.आशीष कुमार गोयल ने विगत माघ मेला एवं आगामी कुंभ मेला की समाप्ति के पश्चात स्नानार्थियों को संगम क्षेत्र में सामान्य दिनों में भी मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने का प्रस्ताव पारित किया। कुंभ के लिए कराए जा रहे लगभग चार हजार करोड़ रुपये के कार्यों की प्रगति की समीक्षा भी की गई।
बैठक में संगम नोज पर पुलिस चौकी की स्थापना का प्रस्ताव पारित हुआ। साथ ही यहां पीएसी के जवानों के कैंप करने पर भी चर्चा हुई। प्राधिकरण बोर्ड के सदस्यों से कुंभ मेला 2019 की बसावट के लिए भूमि के अस्थायी अधिग्र्रहण की प्रक्रिया पर जोर दिया। यह भी प्रस्ताव पारित हुआ कि कुंभ के दौरान नावों का रंग एक होगा। इस पर रेट लिस्ट भी चस्पा होगी। नाविकों को यूनिफॉर्म दिया जाएगा। संगम पर जो पुलिस चौकी स्थापित की जाएगी, वहां कम से कम दो दारोगा, दस पुरुष कांस्टेबल और छह महिला कांस्टेबल की तैनाती का प्रस्ताव पारित हुआ। इस प्रस्ताव को शासन को भेजा जाएगा।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »