केएल राहुल को लेकर कृष्णमचारी श्रीकांत ने संजय मांजरेकर पर निशाना साधा

नई दिल्‍ली। पूर्व मुख्य चयनकर्ता कृष्णमचारी श्रीकांत ने क्रिकेटर से कमेंटेटर बने संजय मांजरेकर पर निशाना साधा है। मांजरेकर ने केएल राहुल को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टीम में शामिल किए जाने पर सवाल उठाया था।
राहुल इंडियन प्रीमियर लीग 2020 में शानदार फॉर्म में हैं। वह इस सीजन में अभी तक सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने दिसंबर-जनवरी में होने वाली बॉर्डर-गावसकर सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुना गया है।
मांजरेकर ने कहा था कि यह एक गलत परंपरा शुरू हो रही है जब किसी खिलाड़ी को आईपीएल में प्रदर्शन के आधार पर टेस्ट टीम में चुना जा रहा है। उन्होंने कहा था कि रणजी ट्राॅफी खेलने वाले खिलाड़ियों को बहुत निराश करने वाला है।
श्रीकांत, मांजरेकर की इस बात से बेहद नाराज नजर आए। उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल ‘चीकी चीका’ में कहा, ‘यह संजय मांजरेकर का काम है कि वह सवाल पूछें, तो उन्हें छोड़ ही दें।’
श्रीकांत ने कहा, आपको सिर्फ विवाद पैदा करने के लिए कोई सवाल नहीं उठाना चाहिए। केएल राहुल ने हर प्रारूप में शानदार प्रदर्शन किया है। एक बार उनका टेस्ट रेकॉर्ड देखिए।’
राहुल ने भारत के लिए 36 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 5 शतक और 11 हाफ सेंचुरी की मदद से 2006 रन बनाए हैं।
श्रीकांत ने कहा, ‘संजय मांजरेकर बेकार की बात कर रहे हैं। मैं इससे सहमत नहीं।’ उन्होंने कहा, ‘राहुल के प्रदर्शन में निरंतरता का अभाव हो सकता है लेकिन यह वही राहुल हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट डेब्यू किया और सेंचुरी लगाई। वह तेज गेंदबाजी के खिलाफ एक अच्छे खिलाड़ी हैं। यह बात समझ लीजिए, वह तेज गेंदबाजी के खिलाफ बहुत अच्छा खेलते हैं।’
राहुल को पिछले साल वेस्टइंडीज के खिलाफ खराब सीरीज के बाद टीम से बाहर कर दिया गया था। इस सीरीज में राहुल ने चार पारियों में सिर्फ 101 रन बनाए थे। इस साल भारत ए के न्यूजीलैंड दौरे पर भी उन्हें शामिल नहीं किया गया था।
श्रीकांत ने मांजरेकर को आगे सलाह दी कि उन्हें सिर्फ मुंबई के खिलाड़ियों के अलावा देश के अन्य क्रिकेटर्स पर भी ध्यान देना चाहिए।
60 वर्षीय इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘संजय मांजरेकर, आप बॉम्बे से आगे सोच नहीं पाते। यही समस्या है। हम सही बात कर रहे हैं। मांजरेकर बॉम्बे के अलावा सोच नहीं सकते। मांजरेकर जैसे लोगों के लिए, सब कुछ बॉम्बे ही है, बॉम्बे और बॉम्बे। उन्हें बॉम्बे से आगे सोचना चाहिए।’
विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम ने 17 दिसंबर से टेस्ट सीरीज खेलनी है। इससे पहले उसे सीमित ओवरों की सीरीज खेलनी है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *