बालों के लिए केरेटिन ट्रीटमेंट से पहले जान लें सब-कुछ

स्मूद और घने बालों के लिए आप क्या-क्या नहीं ट्राई करती हैं। अगर आप भी रफ और ड्राई बालों से परेशान हैं तो आपको अब तक केरेटिन ट्रीटमेंट की सलाह तो मिल ही गई होगी। कभी आपकी कोई दोस्त इसे ट्राई करने के लिए कहेगी तो कभी आपके सलॉन में आपको केरेटिन ट्रीटमेंट कराने की सलाह मिलेगी। ऐसे में इसे लेकर मन में कई तरह के कन्फ्यूजन भी रहता है। आइए, आपको बताते हैं केरेटिन ट्रीटमेंट के बारे में सब-कुछ।
केरेटिन बालों में मौजूद एक प्रकार का नेचुरल प्रोटीन होता है जो बालों की रक्षा करता है और उन्हें हेल्दी बनाता है। हालांकि, धूप और प्रदूषण जैसी वजहों से बालों का केरेटिन खत्म हो जाता है और बाल रफ और ड्राई हो जाते हैं।
केरेटिन ट्रीटमेंट से क्या होगा
केरेटिन ट्रीटमेंट में बालों में केरेटिन अलग से डाला जाता है जिससे बाल स्मूद बनते हैं। नेचुरल केरेटिन के खत्म होने के कारण बालों में पोर्स हो जाते हैं जिसके कारण बाल रफ और उलझे हुए हो जाते हैं। केरेटिन ट्रीटमेंट इन्हें रिपेयर कर देता है।
क्या करें उम्मीद
केरेटिन ट्रीटमेंट बालों की स्ट्रेटनिंग से अलग है। बालों की स्मूदनेस और शाइन धीर-धीरे खत्म हो जाएगी। यह एक तरह से बालों का सुपर डीप कंडीशनिंग है। इसका असर अलग-अलग लोगों पर अलग-अलग होता है। जिनके बाल कर्ली थे, हो सकता है उनके कर्ल्स कुछ कम हो जाएंगे। इसके बद बालों में अलग तरह की चमक दिखेगी।
ट्रीटमेंट लेने से पहले
केरेटिन ट्रीटमेंट के लिए सैलॉन जाने से पहले यह जान लें कि यह आपके लिए जरूरी है या नहीं। जरूरी नहीं है कि अगर आपकी बेस्टफ्रेंट को यह पसंद आया है तो आपको भी यह सूट करे। हेयरस्टाइलिस्ट्स के अनुसार यह फिजी और ड्राई बालों पर ज्यादा सूट करते हैं। वहीं स्ट्रेट बालों पर यह कम सूट करता है। ट्रीटमेंट कराने से पहले अलग-अलग लोगों की राय लें जिन्होंने यह ट्रीटमेंट कराया है। आप इंटरनेट पर भी लोगों के अनुभव पढ़ सकती हैं।
प्रक्रिया
जिस दिन आपके पास समय हो उस दिन ट्रीटमेंट के लिए जाएं। इसमें करीब 3 घंटे का समय लगेगा। आइए, आपको बताते हैं कि ट्रीटमेंट में क्या किया जाता है।
-शैम्पू से हेयर वॉश
-ब्लो ड्राई
-बालों पर केरेटिन सलूशन लगाया जाएगा
-बालों को कुछ देर छोड़ दिया जाएगा
-बालों को फ्लैट आयरन किया जाएगा जिससे सलूशन बालों में पूरी तरह सूख जाए
इसके बाद आप अपने बालों में जादुई बदलाव देखेंगी। आपके रफ दोमुंहे बाल स्मूद और शाइनी बन चुके होंगे।
ट्रीटमेंट के बाद
इसके बाद आपको 48 घंटे तक बाल भिगाने नहीं हैं इसलिए बेहतर ड्राई शैम्पू पर खर्च करना होगा। आपके बाल पहले के मुकाबले आसानी से मैनेज होने होंगे लेकिन हेयर केयर के लिए अब भी आपको मेहनत करनी होगी। इसके लिए आपके हेयर ड्रेसर आपको टिप्स देंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »